होम /न्यूज /राजस्थान /मकराना का सफेद संगमरमर जो किसी रूप मे तराशा जा सकता हैं, जानिए क्या विशेष?

मकराना का सफेद संगमरमर जो किसी रूप मे तराशा जा सकता हैं, जानिए क्या विशेष?

नागौर से विश्व में तीनों अलग-अलग कारणों से जाना जाता हैं. लेकिन नागौर के मकराना तहसील में विश्व का सबसे सर्वश्रेष्ठ क्व ...अधिक पढ़ें

  • Local18
  • Last Updated :

    कृष्ण कुमार

    नागौर:  मकराना का सफेद संगमरमर अपनी पहचान विश्व में अलग रखता हैं. क्योंकि इस मार्बल की चमक अन्य मार्बल की तुलना में अलग होती हैं. यू तों मार्बल भवन व घरों को बनाने में किया जाता है लेकिन सफेद संगमरमर से अलग-अलग प्रकार की मूर्तियां वह साज सजावट का सामान बनाया जाता हैं.

    जानिए क्यों है विशेष
    मकराना की सफेद मूर्तियों इसलिए विशेष हैं क्योंकि यह केवल मकराना में ही बनती हैं. साथ ही इस पत्थर की क्वालिटी बाकी अन्य मार्बलों की तुलना में अलग होती हैं. मार्बल व्यापारी शिवरामजी ने बताया कि इस पत्थर में लचक होती है जिसें आसानी से किसी भी रूप मे ढाला जा सकता हैं.जिस कारण सें मूर्ति या अन्य वस्तुऐ बनानें में आसानी होती हैं.

    अलग – अलग राशि पर बनती है मूर्तियां
    मकराना में अलग – अलग प्रकार के मार्बल निकलता हैं मुख्यत: चार प्रकार का निकलता हैं.इसलिए पत्थर की क्वालिटी के अनुसार मूर्ति की राशि तय होती हैं. सबसे ज्यादा मंहगी मूर्ति सफेद मार्बल की होती हैं क्योंकि यह सबसे मार्बल की क्वालिटीं होती हैं. वही सबसें सस्ती मुर्ति हल्का गुलाबी मार्बल की होती है.

    अलग -अलग प्रकार की बनायी जाती है सामग्री
    मार्बल व्यापारी शिवराम जी ने बताया कि मार्बल की मूर्ति बनाने का अलावा यहां पर घरों के लिए झरोखे पिलर मंदिर के लिए गोल गुंबद साथ ही छोटे-छोटे मंदिर घरों में साज सजावट के लिए गमले छोटे छोटे हाथी घोड़े साथी मार्बल की घड़ियां बनाई जाती है.

    विदेशों मे प्रसिद्ध है मूर्तियां
    नागौर के मकराना मैं बनी सफेद संगमरमर की मूर्तियां देशभर में नहीं विदेशों में भी प्रसिद्ध हैं. यही मकराना से मूर्तियों का एक्सपोर्ट विदेशों में भी किया जाता है यहां से दुबई ऑस्ट्रेलिया इंग्लैंड समेत कई बड़े देशों में मूर्तियां व मार्बल के बनाएंगे वस्तुएं विदेशों में भी भेजी जाती हैं.

    Tags: Nagaur News, Rajasthan news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें