लाइव टीवी

फांसी के फंदे से लटके युवक की पुलिस की तत्परता से इस तरह बची जान

Mahendra Bishnoi | News18 Rajasthan
Updated: October 16, 2019, 5:44 PM IST
फांसी के फंदे से लटके युवक की पुलिस की तत्परता से इस तरह बची जान
पुलिस ने गंभीर हालत में युवक को अस्पताल में कराया भर्ती

नागौर शहर के बालवा रोड स्थित हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में रहने वाले एक युवक की पुलिस की तत्परता से जान बच गई. वह युवक के फांसी के फंदे से लटक गया था.

  • Share this:
नागौर. शहर के बालवा रोड स्थित हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी (housing Board Colony) में रहने वाले एक युवक ने मंगलवार की देर शाम फांसी के फंदे से झूलकर जान देने की कोशिश की. इसी बीच फोन पर पुलिस को  इसकी सूचना मिल गई. इसके बाद पुलिस ने तत्परता ( readiness of the police) दिखाते हुए ऐन वक्त पर मौके पर पहुंचकर युवक की जान बचा (life saved) ली. पुलिस ने युवक को फंदे से उतारकर जेएलएन अस्पताल( JLN Hospital) में भर्ती कराया, जहां उसका उपचार चल रहा है और अब वह खतरे से बाहर है.

फंदे से लटक रहे युवक की चल रही थीं सांसें 

कोतवाली के थानाधिकारी अमराराम खोखर ने बताया कि नया गांव निवासी हाल बालवा रोड हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में रहने वाले राकेश (23) ने मंगलवार शाम को थाने में फोन कर कहा कि वह प्रेमाराम बोल रहा है, हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में रहने वाला राकेश फांसी पर लटककर आत्महत्या कर रहा है. इस पर थाने से टीम हाउसिंग बोर्ड पहुंची. उधर, सीआई खोखर भी बीकानेर रोड की तरफ गश्त कर रहे थे, इसलिए वे भी सूचना मिलते ही तत्काल वहां पहुंच गए, लेकिन कॉलोनी में राकेश का घर नहीं मिला. पुलिस ने जिस नम्बर से फोन आया, उस पर कई कॉल किए, लेकिन उसने उठाया नहीं. आखिर में उसने फोन उठाकर इतना कहा कि राकेश टंकी के पास रहता है. इस पर पुलिस ने बाल संप्रेषण गृह के सामने कुछ लोगों से पूछा तो उन्होंने बताया कि राकेश नाम का युवक इस मकान में रहता है.

खुद ही दूसरे के नाम से दी फांसी लगाने की सूचना

पुलिस ने राकेश के घर का दरवाजा खोलना चाहा, लेकिन अंदर से बंद था. इस पर कुल्हाड़ी से दरवाजा तोड़ा और अंदर प्रवेश किया तो राकेश फांसी के फंदे से लटका हुआ था पर उसकी सांसें चल रही थीं. पुलिस ने उसे तत्काल नीचे उतारा और जेएलएन अस्पताल में भर्ती कराया. इस दौरान एएसपी रामकुमार कस्वां भी अस्पताल पहुंच गए.बाद में पता चला कि फांसी लगाने वाले युवक ने खुद ने ही दूसरे का नाम इस्तेमाल कर कोतवाली को सूचना दी और फिर फंदे से लटक गया.

कोतवाली के थानाधिकारी अमराराम खोखर ने दी पूरे घटनाक्रम की जानकारी


चिकित्सा विभाग की टीम पहुंचीयुवक द्वारा आत्महत्या का प्रयास करने की सूचना मिलने पर एसपी डॉ. विकास पाठक ने चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को फोन कर अस्पताल पहुंचने के लिए कहा. इस पर सीएमएचओ डॉ. सुकुमार कश्यप, डिप्टी सीएमएचओ डॉ. शीशराम चौधरी सहित जेएलएन अस्पताल के चिकित्सकों ने इमरजेंसी यूनिट में पहुंचकर युवक के स्वास्थ्य जांच की. डॉ. वाईएस नेगी ने बताया कि युवक की हालत खतरे से बाहर है. प्राथमिक उपचार के बाद उसे वार्ड में शिफ्ट कर दिया. डॉक्टर की रिपोर्ट के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली.

ये भी पढ़ें- दुष्कर्म के आरोपी की हिरासत में मेडिकल जांच के दौरान बिगड़ी तबीयत,पुलिस परेशान

शराबी पुलिसकर्मी ने नशे में बस स्टैंड पर वर्दी उतार फेंकी, वीडियो हुआ वायरल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नागौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 16, 2019, 5:44 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर