सफाईकर्मियों के पद पर दूसरे वर्गों ने किया आवेदन, वाल्मीकि समाज हुआ नाराज

वाल्मीकी समाज के युवाओं और मजदूरों की नौकरी हड़पने की नियत अन्य वर्ग सफाई कर्मी के लिए आवेदन कर रहे हैं. वाल्मीकी समाज का आरोप है कि जो अन्य वर्ग के लोग सफाईकर्मी के लिए आवेदन कर रहे हैं वे दफ्तरों में काम करेंगे, जिसका सीधा असर वाल्मीकी समाज के सफाई कर्मियों पर पड़ेगा.

Mahendra Bishnoi
Updated: May 30, 2018, 2:33 PM IST
सफाईकर्मियों के पद पर दूसरे वर्गों ने किया आवेदन, वाल्मीकि समाज हुआ नाराज
विरोध प्रदर्शन करते वाल्मीकी समाज के लोग
Mahendra Bishnoi
Updated: May 30, 2018, 2:33 PM IST
नागौर में सफाई कर्मियों की भर्ती पर वाल्मीकी समाज के अलावा दूसरे बेरोजगारों के आवेदन करने पर समाज के लोग नाराज हो गए. सफाई कर्मियों ने इसका खुलकर विरोध किया है. पिछले दो दिनों ने नागौर में सफाई नहीं हो रही है. समाज राजस्थान प्रदेश सफाई मजदूर संघ के बेनर तले विरोध प्रदर्शन कर रहा है और मुख्यमंत्री व स्वायत्त शासन मंत्री के नाम ज्ञापन प्रेषित किया है.

सफाई कर्मियों ने बताया कि वाल्मीकी समाज प्राचीन काल से लेकर वर्तमान काल तक गांवों और शहरों में सफाई का कार्य करता आया है. वाल्मीकी समाज के युवाओं और मजदूरों की नौकरी हड़पने की नियत अन्य वर्ग सफाई कर्मी के लिए आवेदन कर रहे हैं. वाल्मीकी समाज का आरोप है कि जो अन्य वर्ग के लोग सफाईकर्मी के लिए आवेदन कर रहे हैं वे दफ्तरों में काम करेंगे, जिसका सीधा असर वाल्मीकी समाज के सफाई कर्मियों पर पड़ेगा.



मामले को लेकर वाल्मीकी समाज के लोगों ने बताया कि इस भर्ती में शामिल होने के लिए अन्य वर्ग के लोगों ने झूठे दस्तावेज पेश किए हैं. उन्होंने इनके दस्तावेजों की जांच कर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है. वाल्मीकी समाज के लोगों ने चेतावनी दी है कि 3 दिन में वाल्मिकी समाज के बेरोजगारों के हित में निर्णय नहीं लिया गया तो पंचायत बुलाकर भाजपा सरकार का विरोध किया जाएगा.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...