Home /News /rajasthan /

बेटी को जन्‍म देने पर महिला को कमरे में रखते थे बंद, नहीं देते थे खाना-पानी

बेटी को जन्‍म देने पर महिला को कमरे में रखते थे बंद, नहीं देते थे खाना-पानी

दहेज प्रताड़ना की खबरें तो आप आए दिन पढ़ते होंगे, लेकिन जोधपुर की इस घटना को सुनकर शरीर कांप जाएगा। यहां दहेज के लालच में ससुराल पक्ष के लोगों ने इंसानियत की सभी हदें पार कर दी। ससुरालियों ने अपनी बहु को कई दिनों तक बिना अन्‍न-जल दिए इस लिए बंद रखा क्योंकि उसने बेटियों को जन्म दिया।

दहेज प्रताड़ना की खबरें तो आप आए दिन पढ़ते होंगे, लेकिन जोधपुर की इस घटना को सुनकर शरीर कांप जाएगा। यहां दहेज के लालच में ससुराल पक्ष के लोगों ने इंसानियत की सभी हदें पार कर दी। ससुरालियों ने अपनी बहु को कई दिनों तक बिना अन्‍न-जल दिए इस लिए बंद रखा क्योंकि उसने बेटियों को जन्म दिया।

दहेज प्रताड़ना की खबरें तो आप आए दिन पढ़ते होंगे, लेकिन जोधपुर की इस घटना को सुनकर शरीर कांप जाएगा। यहां दहेज के लालच में ससुराल पक्ष के लोगों ने इंसानियत की सभी हदें पार कर दी। ससुरालियों ने अपनी बहु को कई दिनों तक बिना अन्‍न-जल दिए इस लिए बंद रखा क्योंकि उसने बेटियों को जन्म दिया।

अधिक पढ़ें ...
    दहेज प्रताड़ना की खबरें तो आप आए दिन पढ़ते होंगे, लेकिन जोधपुर की इस घटना को सुनकर शरीर कांप जाएगा। यहां दहेज के लालच में ससुराल पक्ष के लोगों ने इंसानियत की सभी हदें पार कर दी। ससुरालियों ने अपनी बहु को कई दिनों तक बिना अन्‍न-जल दिए इस लिए बंद रखा क्योंकि उसने बेटियों को जन्म दिया।

    वहीं पीड़िता के परिवार वाले 15 सालों तक अपने बेटी की आवाज को दबाते रहे। अखिरकार समाज की लाज शर्म के बाद अब पीड़ित महिला के भाई ने पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया है। बेटी जन्‍म लेने के चलते पीड़िता को एक कमरे में बंद रखा गया और उसे खाने-पीने के लिए भी नहीं दिया।

    समाज के डर व प्रतिष्ठा के नाम पर पिता ने 15 साल तक अपनी बेटी पर हो रहे अत्याचार पर अपनी जुबान बंद रखी। आखिरकार बेटी की मरणाशन्न की हालत देख बेटे के कहने पर पिता मोहन सिंह ने बेटी भंवर कंवर को लेकर महिला पुलिस थाने पहुंचा। जहां पीड़िता की हालत देख पुलिस भी दंग रह गई।

    अधिकारियों ने तुरंत पीड़िता को महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस ने दहेज प्रताड़ना और मारपीट का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

    पुलिस ने बताया कि बीजेएस के रहने वाले मोहनसिंह ने अपनी बेटी भंवर कंसर की शादी 18 साल पहले कमल सिंह के साथ किया था। कमल सिंह पाली जिला के मालारी गांव में रहता है।

    शादी के बाद से ही कमलसिंह, उसकी माता पूनम कंवर, बहन आनंद कंवर और बहनोई सज्जन सिंह लगातार भंवर कवर को दहेज के लिए मारते-पीटते थे। भंवर ने जब बेटी को जन्‍म दिया तो ससुराल वाले और ज्‍यादा प्रताड़ित करने लगे।

    आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर