पंचायत चुनाव-2020: अधिसूचना जारी, कल भरे जाएंगे पर्चे, प्रत्याशी इन बातों का रखें खास ख्याल
Jaipur News in Hindi

पंचायत चुनाव-2020: अधिसूचना जारी, कल भरे जाएंगे पर्चे, प्रत्याशी इन बातों का रखें खास ख्याल
राज्य चुनाव आयोग का कहना है कि दिशा-निर्देशों की पालना नहीं करने पर यदि नामांकन-पत्र रद्द हो जाता है तो इसकी जिम्मेदारी प्रत्याशी की ही होगी.

प्रदेश में पंचायत चुनाव (Panchayat Election) के प्रथम चरण के लिए मंगलवार को अधिसूचना जारी (Notification issued) कर दी गई है. अब बुधवार को नामांकन प्रक्रिया (Nomination process) होगी. नामांकन प्रक्रिया के लिए राज्य चुनाव आयोग (State election commission) ने विस्तृत दिशा-निर्देश (Detailed guidelines) जारी किए हैं.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश में पंचायत चुनाव (Panchayat Election) के प्रथम चरण के लिए मंगलवार को अधिसूचना जारी (Notification issued) कर दी गई है. अब बुधवार को नामांकन प्रक्रिया (Nomination process) होगी. नामांकन प्रक्रिया के लिए राज्य चुनाव आयोग (State election commission) ने विस्तृत दिशा-निर्देश (Detailed guidelines) जारी किए हैं. इसके तहत प्रत्याशी को खुले में शौच नहीं जाने का घोषणा-पत्र (Declaration) भी देना होगा. नामांकन-पत्र का कोई भी कॉलम खाली रखने पर उसे रद्द (Reject) कर दिया जाएगा.

दिशा-निर्देशों की पालना नहीं करने पर रद्द हो सकता है नामांकन-पत्र
राज्य निर्वाचन आयोग ने किसी भी प्रत्याशी का नामांकन-पत्र रद्द न हो इसके लिए विस्तृत दिशा-निर्देश जारी कर चुनाव लड़ने वाले कैंडिडेट्स को बड़ी राहत प्रदान की है. आयोग ने स्पष्ट दिशा निर्देश जारी कर कैंडिडेट्स को हिदायत दी है कि नामांकन-पत्र का कोई भी कॉलम खाली छोड़ने पर नामांकन-पत्र रद्द कर दिया जाएगा. आयोग के दिशा-निर्देशों की पालना नहीं करने पर नामांकन-पत्र रद्द हो जाता है तो इसकी जिम्मेदारी प्रत्याशी की ही होगी.

नामांकन-पत्र भरने में इन बातों का रखें ख्याल



- नामांकन-पत्र की सभी प्रविष्टियां पूर्ण रूप से भरनी है.


- कोई भी कॉलम रिक्त नहीं रखना है.
- संतान और सम्पत्ति के संबंध में सभी सूचनाएं प्रस्तुत करनी है.

- विचाराधीन आपराधिक मामलों और आपराधिक प्रकरणों में दोषसिद्धि से संबंधित पूरी सूचना देनी है.
- सरपंच पद का चुनाव लड़ने वाले सामान्य वर्ग के प्रत्याशी के लिए जमानत राशि शुल्क 500 रुपए है.
- महिला एवं अनुसूचित जाति, जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए यह 250 रुपए है.
- सभी के लिए जमानत राशि जमा करवाकर उसकी रसीद लगाना आवश्यक है.
- उम्मीदवार के लिए चरित्र प्रमाण-पत्र संलग्न किया जाना आवश्यक नहीं है.
- अनुसूचित जाति, जनजाति या अन्य पिछड़े वर्ग का कोई भी अभ्यर्थी साधारण वार्ड से चुनाव लड़ सकता है.
- पुरुष अभ्यर्थी महिला के लिए आरक्षित किसी वार्ड से नाम नामांकन-पत्र दाखिल करने का हकदार नहीं होगा.
- नामांकन-पत्र के साथ सांख्यिकी सूचना के फार्म को भी चुनाव लड़ने वाले अभ्यर्थियों से भरवाया जाएगा.

नामांकन करते समय इनका भी विशेष ध्यान रखें
- यदि आरक्षित जाति का व्यक्ति सामान्य वार्ड से निर्वाचन के लिए नामांकन-पत्र प्रस्तुत करता है तो उसे जमानत राशि में रियायत के लिए अपना जाति प्रमाण-पत्र प्रस्तुत करना जरूरी होगा.
- अनुसूचित जाति, जनजाति और अन्य पिछड़े वर्ग का कोई अभ्यर्थी यदि आरक्षित वार्ड के लिए नामांकन-पत्र प्रस्तुत करता है तो उसे कलक्टर या राज्य सरकार की ओर से प्राधिकृत अधिकारी द्वारा जारी किया गया प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा.
- सांख्यिकी सूचना फॉर्म को प्रस्तुत नहीं करने पर हालांकि नाम नामांकन-पत्र खारिज नहीं किया जाएगा, लेकिन यथासंभव इसको भरा जाना चाहिए ताकि चुनाव में खड़े होने वाले अभ्यर्थी के संबंध में सामान्य सूचनाएं उपलब्ध हो सके.

 

पंचायत चुनाव: चौथे चरण का चुनाव कार्यक्रम घोषित, 1 फरवरी को डाले जाएंगे वोट

पंचायत चुनाव: 12 जिलों की 166 ग्राम पंचायतों की चुनाव तारीख बदली, देखें सूची
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading