राजस्थान उपचुनाव के बाद होंगी राजनीतिक नियुक्तियां, 21 जिलों से प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पहुंची सूची

राजस्थान में राजनीतिक नियुक्तियों के लिए दावेदारों की सूची प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पहुंच रही है.

राजस्थान में राजनीतिक नियुक्तियों के लिए दावेदारों की सूची प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पहुंच रही है.

राजस्थान (Rajasthan) में उपचुनाव खत्म होने के बाद राजनीतिक नियुक्तियां की जाएंगी. इसके लिए अभी तक 21 जिलों से दावेदारों के नाम प्रदेश कांग्रेस कार्यलय (Congress Office) पहुंच चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2021, 8:23 PM IST
  • Share this:
जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) में उपचुनाव खत्म होने के बाद राजनीतिक नियुक्तियों का सिलसिला शुरू हो जाएगा. सबसे पहले जिला स्तर पर राजनीतिक नियुक्तियां की जानी हैं, जिसमें कांग्रेस (Congress) के हजारों नेता-कार्यकर्ता एडजस्ट होंगे. हाल ही में प्रदेश के दौरे पर आए कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अजय माकन (Ajay Maken) ने कहा था कि राजनीतिक नियुक्तियों के लिए उपचुनाव खत्म होने तक का इंतजार करना पड़ेगा.

पीसीसी मुख्यालय सचिव ललित तूनवाल के मुताबिक 21 जिला प्रभारी अब तक राजनीतिक नियुक्तियों के लिए सूची तैयार कर प्रदेश कांग्रेस कार्यालय भिजवा चुके हैं और इन पर मंथन भी हो चुका है. शेष रहे 12 जिलों में पंचायत चुनावों के बाद सूचियां तैयार होने की संभावना जताई जा रही है. जिलों में जिला स्तरीय और उपखंड स्तरीय राजनीतिक नियुक्तियां होनी हैं, जिसके नाम निर्धारित प्रोफॉर्मा में पार्टी द्वारा मांगे गए थे. जिन 21 जिलों से सूचियां आ चुकी हैं, उनमें उपचुनाव के बाद राजनीतिक नियुक्तियों का सिलसिला शुरू हो जाएगा.

दस प्रकार की समितियों के लिए नाम

जिन 12 जिलों से सूचियां आ चुकी हैं, उनमें अलवर, दौसा, भरतपुर, धौलपुर, जयपुर, जोधपुर, करौली, कोटा, सवाई माधोपुर, सिरोही और श्रीगंगानगर आदि जिलों के नाम शामिल हैं. प्रदेश में विभिन्न विभागों से जुड़ी करीब 85 प्रकार की समितियों में राजनीतिक नियुक्तियां की जानी है, लेकिन अभी पार्टी द्वारा महज 10 प्रकार की समितियों के लिए ही नाम लिए गए हैं. खास बात यह है कि जो प्रोफॉर्मा पार्टी की ओर से दिया गया था उसमें अधिकांश राजनीतिक नियुक्तियों के लिए प्रधान, उप प्रधान और जिला परिषद सदस्यों के नाम ही भरने थे. यानी इन समितियों में पंचायतीराज जनप्रतिनिधियों को ही नियुक्ति में प्राथमिकता दी जाएगी.
श्रीगंगानगर: सेना की जिप्सी में पलटते ही लगी आग, झुलसने से 3 जवानों की मौत, 5 गंभीर घायल

इन समितियों में होनी हैं नियुक्तियां

उपखंड स्तर पर पांच प्रकार की समितियों में नियुक्तियां की जानी हैं. इन समितियों में उपखंड स्तरीय सतर्कता समिति, उपखंड स्तरीय वन अधिकारी समिति, उपखंड स्तरीय समीक्षा एवं संचालन समिति, पेयजल प्रदूषण की रोकथाम हेतु समिति और उपखंड स्तरीय जल वितरण समिति शामिल है. वहीं जिला स्तर पर जिन समितियों में नियुक्तियां होनी हैं, उनमें जन अभाव अभियोग निराकरण समिति, जिला स्तरीय समन्वय समिति, जिला स्तरीय समीक्षा एवं संचालन समिति, जिला लोक शिक्षा समिति, प्रधानमंत्री 15 सूत्री कार्यक्रम, जिला स्तरीय अल्पसंख्यक मामलात कमेटी, जिला स्तरीय जल वितरण समिति, जिला महिला सहायता समिति, जिला क्रीड़ा परिषद समिति और 20 सूत्री कार्यक्रम आयोजन क्रियान्वयन एवं समन्वय समिति शामिल है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज