लाइव टीवी

नवरात्रिः पाप से मुक्ति के लिए इस जेल में 180 कैदी व्रत रखकर कर रहे हैं प्रायश्चित
Pratapgarh News in Hindi

ETV Rajasthan
Updated: September 26, 2017, 4:02 PM IST
नवरात्रिः पाप से मुक्ति के लिए इस जेल में 180 कैदी व्रत रखकर कर रहे हैं प्रायश्चित
फोटो-(ईटीवी)

नवरात्रि में मंदिरों में माता के दर्शन और पूजा के लिए भीड़ उमड़ रही है, वहीं प्रतापगढ़ की जिला जेल में भी कैदी पूरी श्रद्धा से मां की पूजा कर रहे हैं.

  • Share this:
नवरात्रि में मंदिरों में माता के दर्शन और पूजा के लिए भीड़ उमड़ रही है, वहीं प्रतापगढ़ की जिला जेल में भी कैदी पूरी श्रद्धा से मां की पूजा कर रहे हैं. जेल के कैदी जेल में ही स्थिति मां की पूजा कर नवरात्रि हर्षोल्लास के साथ मना रहे हैं. प्रतापगढ़ की जिला जेल में कैदी पूरी श्रद्धा भाव के साथ मां की पूजा कर रहे हैं.

जिला जेल प्रभारी पारस ने बताया कि जेल में बंद 280 में से 180 कैदी को व्रत-उपवास भी कर रहे हैं, ताकि मां उन पर कृपा करे और वे हमेशा के लिए अपराध से दूर हो जाएं. यही नहीं, जेल प्रबंधन द्वारा व्रत-उपवास और पूजा के लिए कैदियों को उपयुक्त माहौल भी दिया जा रहा है.

जब भी शाम को जेल स्थित मां के मंदिर में आरती होती है, कैदी उमड़ पड़ते हैं. कैदी जब मां की आरती करते हैं तो इसे देख सभी मंत्र-मुद्ध हो जाते हैं क्योंकि वे पूरी श्रद्धा भाव से पूजा करते हैं. मानों मां से मांग रहे हों कि वे अपराध से हमेशा के लिए दूर हो जाएं और मां उन्हें इन बंदिशों से भी आजाद कर दे.



आपको बता दें कि शारदीय नवरात्रि में यूं तो हर दिन समान महत्व रखता है लेकिन हर दिन का एक विशेष महत्व भी है. जैसे छठवां दिन गृहस्थों और विवाह के इच्छुक लोगों के लिए खास है. इस दिन माता कात्यायनी की पूजा की पूजा की जाती है. उनका पूजन इनके लिए बहुत फलदायी होता है.



मान्यता है कि महर्षि कात्यायन की कड़ी तपस्या से प्रसन्न होकर आदिशक्ति ने उनके यहां पुत्री के रूप में जन्म लिया. महर्षि के नाम पर ही देवी का नाम कात्यायनी हुआ. मां कात्यायनी असीम फलदायिनी हैं. इन्होंने महिषासुर मर्दन किया था इसलिए यह दानवों, असुरों और पापियों का नाश करने वाली कहलाती हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए प्रतापगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 26, 2017, 3:58 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading