राजस्थान सरकार के पास है पाकिस्तान की सीमा से लगने वाली सड़कों के लिए खास प्लान, कलेक्टरों को दिए ये निर्देश

राजस्थान सरकार के सचिव ने पाक सीमा से लगती सड़कों को बनाने के प्रस्ताव मांगा है.

राजस्थान सरकार के सचिव ने पाक सीमा से लगती सड़कों को बनाने के प्रस्ताव मांगा है.

राजस्थान (Rajasthan) के मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने पाकिस्तान (Pakistan) से लगती अंतराष्ट्रीय सीमा से लगते क्षेत्रों में सड़कों (Road) के निर्माण एवं सुधार के लिए खास प्लान बनाया है. राजस्थान (Rajasthan) के सचिव ने जिले के कलेक्टरों से प्रस्ताव मांगा हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2021, 5:29 PM IST
  • Share this:
जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) के मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने पाकिस्तान से लगती अंतराष्ट्रीय सीमा से लगते क्षेत्रों में सुरक्षा बलों (Security Forces) के आवागमन की सुविधा की दृष्टि से महत्वपूर्ण सड़कों (Road) के निर्माण एवं सुधार के लिए प्रस्ताव बनाकर भेजने के निर्देश दिए हैं. आर्य ने बुधवार को यहां शासन सचिवालय में स्टेट लेवल स्टेयरिंग कमेटी की बैठक में वीडियाें कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सीमावर्ती जिलों के जिला कलेक्टर्स एवं पुलिस अधीक्षकों को निर्देशित किया.

मुख्य सचिव ने कहा कि जिला कलेक्टर सुरक्षा बलों के साथ नियमित बैठक कर उनकी समस्याओं का प्राथमिकता से निस्तारण करें. बीकानेर जिले में सड़कों की समस्या के सबंध में मुख्य सचिव ने कहा कि सुरक्षा बलों के आवागमन सुविधा की दृष्टि से ऐसी महत्वपूर्ण सड़कों के निर्माण एवं सुधार के लिए शीघ्र प्रस्ताव बनाकर भिजवाएं, ताकि इनका विभिन्न योजनाओं में निमार्ण कर समस्या का समाधान किया जा सके.

जिस हेलीकॉप्‍टर से यात्रा करते थे अशोक गहलोत और वसुंधरा राजे, नहीं मिल रहा उसका कोई खरीदार


आवाजाही पर निगरानी के निर्देश

मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने अवैध एवं ओवरलोड वाहनों के खिलाफ समग्र दृष्टिकोण के साथ कार्रवाई करने के निर्देश दिए. उन्होंने सड़कों की बेहतरी के लिए बीएडीपी बजट का उपयोग करने के भी निर्देश दिए. मुख्य सचिव ने बॉर्डर एरिया में लोगों की आवाजाही पर प्रभावी निगरानी एवं नियंत्रण करने के भी निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि अगर प्रशासन को सुरक्षा बलों की ओर से कोई शिकायत आती है तो उसका तुरंत समाधान करना सुनिश्चित करें.

कमेटी की बैठक में ये अधिकारी रहे मौजूद



स्टेट लेवल स्टेयरिंग कमेटी की बैठक में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (इंटेलिजेंस) उमेश मिश्रा ने ओवरलोडेड वाहनों के खिलाफ सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने जैसी कठोर धाराओं में कार्रवाई करने के निर्देश दिए. बैठक में गृह विभाग के प्रमुख शासन सचिव अभय कुमार एवं शासन सचिव एन.एल.मीना भी उपस्थित रहे. इस दौरान जैसलमेर, बाड़मेर, बीकानेर एवं श्रीगंगानगर जिलों के जिला कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक भी वीडियाें कॉन्फ्रेंसिंग से शामिल हुए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज