Assembly Banner 2021

राम मंदिर निर्माण के लिए निधि समर्पण में राजस्थान देश में अव्वल, 500 करोड़ से ज्यादा दिया दान

जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के महासचिव चंपतराय जयपुर पत्रकारों को दान की जानकारी देते हुए.

जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के महासचिव चंपतराय जयपुर पत्रकारों को दान की जानकारी देते हुए.

राम मंदिर (Ram Mandir) निर्माण के लिए निधि समर्पण में राजस्थान (Rajasthan) देश में अव्वल है. राजस्थान के लोगों ने राम मंदिर निर्माण के लिए 500 करोड़ से ज्यादा का दान दिया है. वहीं पूरे देश 2500 करोड़ रुपए दान में मिले हैं. मुख्य मंदिर में बंशी पहाड़पुर के पत्थर का इस्तेमाल होना है.

  • Share this:
जयपुर. अयोध्या (Ayodhya) में बनने वाले राम मंदिर (Ram Mandir) निर्माण के लिए देशभर में चलाए गए निधि समर्पण अभियान में राजस्थान (Rajasthan) देश में सबसे अव्वल रहा है. राजस्थान के लोगों ने राम मंदिर निर्माण के लिए 500 करोड़ रुपए रुपए दान दिया है. हालांकि, संग्रहित राशि की पूरी गणना होना बाकी है.

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के महासचिव चंपतराय जयपुर आए और मीडिया को बताया कि देशभर में 9 लाख कार्यकर्ताओं ने 10 करोड़ लोगों तक पहुंचकर राशि एकत्रित की. राजस्थान में 36 हजार गांव और अन्य शहरी मोहल्ले शामिल हैं. देशभर के 4 लाख गांवों में समर्पण के अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में हम सफल हुए हैं. हालांकि अभी कई परिवारों के आंकड़े आने बाकी हैं. अभियान में स्वयंसेवकों की 1.75 लाख टोलियों में जुड़े कार्यकर्ताओं ने घर-घर जाकर संपर्क किया.

राजस्थानः दो परिवारों की खानदानी लड़ाई में शराब के ठेके के लिए 510 करोड़ की लगाई बोली



38125 कार्यकर्ताओं के माध्यम से समर्पण निधि बैकों में जमा कराई गई. राम मदिर निर्माण के लिए मुस्लिम परिवारों ने भी दान दिया. अनेक स्थानों पर भिक्षुकों, दैनिक मजदूर और खेतिहर किसानों ने भी अभियान में हिस्सा लिया. हैदराबाद की एक कंपनी द्वारा बनाए गए एप ने कार्यकर्ताओं, बैंकों तथा न्यास के बीच एक मजबूत सेतु के रूप में कार्य किया.
कांग्रेस ने लोगों ने भी दिया चंदा

राम मंदिर निर्माण के लिए रॉबर्ट वाड्रा सहित कई लोगों के चंदा नहीं देने के सवाल पर चंपतराय ने कहा कि किसी पर दबाव नहीं है, लेकिन कांग्रेस के बड़े लोगों ने फोन करके घर बुलाया और चंदा दिया है. वहीं उन्होंने बताया कि विदेशों से अभी हमने कोई पैसा नहीं लिया है, लेकिन वहां रहने वाले देश के लोगों ने राम मंदिर के लिए राशि एकत्रित कर रखी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज