Home /News /rajasthan /

4 साल की बच्ची ने किया पुनर्जन्म का दावा, बताया 9 साल पहले कब-कैसे हुई थी मौत, परिवार हैरान

4 साल की बच्ची ने किया पुनर्जन्म का दावा, बताया 9 साल पहले कब-कैसे हुई थी मौत, परिवार हैरान

Rajsamand Latest News:राजसमंद की 4 साल की बच्ची ने किया पुनर्जन्म का दावा, बताया पिछले जन्म में कैसे हुई थी मौत.

Rajsamand Latest News:राजसमंद की 4 साल की बच्ची ने किया पुनर्जन्म का दावा, बताया पिछले जन्म में कैसे हुई थी मौत.

Shocking Rebirth Story in Rajasthan: राजस्थान (Rajasthan) के राजसमंद (Rajsamand) के नाथद्वारा से सटा गांव है परावल. गांव में रहने वाली 4 साल की किंजल (Kinjal Chundawat Rajsamand) ने पुनर्जन्म का दावा किया. वह अपने आप को ऊषा बताती थी. किंजल का कहना था कि उसके मां-बाप और भाई समेत पूरा परिवार पिपलांत्री में ही रहता है. पीहर पीपलांत्री और ससुराल ओडन में है. बच्ची की बातों से मां-बाप से लेकर रिश्तेदार और गांववाले चकित रह गए. मासूम ने पिछले जन्म की जो बातें और किस्से बताईं, वह सच निकलीं. पिछले एक साल से किंजल बार-बार अपने भाई से मिलने की बात कह रही थी. किंजल की कहानी पर शुरुआत में तो उसके माता-पिता ने विश्वास नहीं किया लेकिन फिर अपने गांव से 30 किमी दूर बसे पिपलांत्री गांव तक खबर पहुंचाई. किंजल की कहानी जब पिपलांत्री के पंकज के पास पहुंची तो वह परावल आया. पंकज ऊषा का भाई है. बकौल पंकज जैसे ही उसे देखा तो किंजल की खुशी का ठिकाना न रहा. फोन में मां और ऊषा का फोटो दिखाया तो वह फूट-फूटकर रोने लगी. 14 जनवरी को किंजल अपनी मां और दादा सहित परिवार के साथ पिपलांत्री पहुंची. किंजल ने जो कुछ भी बताया, हर बात सच निकली. गांव वालों ने बताया कि 9 साल पहले जलने से ऊषा की मौत हो गई थी. इस घटनाक्रम के बाद दोनों परिवारों के बीच अनूठा रिश्ता बन गया.

अधिक पढ़ें ...

अल्केश सनाढ़्य

राजसमंद. राजस्थान (Rajasthan) के राजसमंद (Rajsamand) में एक 4 साल की बच्ची ने अपने पुनर्जन्म को लेकर दावा किया है. बच्ची की बातों से मां-बाप से लेकर रिश्तेदार और गांव वाले सब चकित हैं. मासूम पिछले जन्म की जो बातें और किस्से बता रही है, वह सच निकले हैं. कहा जा रहा है कि पहली जिंदगी में उसकी मौत कब और कैसे हुई, बच्ची यह सब बताती है. हालांकि उम्र कम होने से वो फर्राटा से बात नहीं कर सकती है. राजसमंद जिले के नाथद्वारा से सटा गांव है परावल. यहां के रतनसिंह चूंडावत की 5 बेटियां हैं. वह एक होटल में नौकरी करते हैं. पिछले एक साल से उनकी सबसे छोटी बेटी 4 साल की किंजल बार-बार अपने भाई से मिलने की बात कह रही थी.

किंजल के दादा राम सिंह चुंडावत ने कहा कि उन्होंने पहले तो इस पर ध्यान नहीं दिया, लेकिन दो महीने पहले जब एक बार किंजल की मां दुर्गा ने किंजल को अपने पापा को बुलाने को कहा तो वह बोली पापा तो पिपलांत्री गांव में हैं. पिपलांत्री वही गांव है, जहां ऊषा नाम की एक महिला की जलने से मौत हो गई थी. किंजल के अभी के गांव से करीब 30 किलोमीटर दूर. अब किंजल कहती है कि वही ऊषा है.

लोगों ने किया बड़ा दावा

उषा के गांव पिपलांत्री के लोगों का दावा है कि नौ साल पहले आग से जलकर उसकी मौत हो गई थी. यहीं से शुरू होती है किंजल के पुनर्जन्म की कहानी.. बच्ची के जवाब और दावे से पूरा परिवार सन्न रह गया. मां दुर्गा के बार-बार पूछने पर किंजल आगे बताती है कि उसके मां-बाप और भाई समेत पूरा परिवार पिपलांत्री में ही रहता है. वह 9 साल पहले जल गई थी. इस हादसे में उसकी मौत हो गई और एंबुलेंस यहां छोड़कर चली गई. दुर्गा ने यह बात बच्ची के पिता रतन सिंह को बताई. किंजल ने बताया कि उसके परिवार में दो भाई-बहन हैं. पापा ट्रैक्टर चलाते हैं. पीहर पीपलांत्री और ससुराल ओडन में है.

किंजल की कहानी जब पिपलांत्री के पंकज के पास पहुंची तो वह परावल आया. पंकज ऊषा का भाई है. बकौल पंकज जैसे ही उसे देखा तो किंजल की खुशी का ठिकाना न रहा. फोन में मां और ऊषा का फोटो दिखाया तो वह फूट-फूटकर रोने लगी. 14 जनवरी को किंजल अपनी मां और दादा सहित परिवार के साथ पिपलांत्री पहुंची.

Reincarnation of kinjal rajsamand, Rebirth Story, Rajsamand News, Rebirth Story in Rajsamand, kinjal ki punarjanm ki kahani, reincarnation story in rajsamand, rajsamand kinjal rebirth story, rajasthan rebirth claim news, kinjal rajsamand rebirth, kinjal rajsamand reincarnation story in hindi rajasthan news, ajab gajab news,Kinjal Chundawat rajsamand reincarnation, राजसंद किंजल पुनर्जन्म, राजस्थान समाचार, राजसंद किंजल पुनर्जन्म पूरी कहानी, पुनर्जन्‍म का सच, rebirth story in india, latest rebirth cases in india, real stories of rebirth in india, real stories of rebirth in india in hindi, reincarnation in india, reincarnation in hinduism, reincarnation news, real stories of rebirth in india in hindi, story of Reincarnation in Rajsamand, Real Story of Rebirth, Reincarnation Real Story

Rajsamand Latest News:  14 जनवरी को किंजल अपनी मां और दादा सहित परिवार के साथ पिपलांत्री पहुंची.

ऊषा के गांव भी गई किंजल

ऊषा की मां गीता पालीवाल ने बताया कि जब किंजल हमारे गांव आई तो ऐसा लगा जैस बरसों से वह यहीं रह रही हो. जिन महिलाओं को वह पहले जानती थी, उनसे बात की. यहां तक कि जो फूल ऊषा को पसंद थे, उसके बारे में किंजल ने पूछा कि वो फूल अब कहां है. तब हमने बताया कि 7-8 साल पहले हटा दिए थे. दोनों छोटी बेटियों और बेटों से भी बात की और खूब दुलार किया. गीता ने बताया कि उनकी बेटी ऊषा 2013 में घर में काम करते वक्त गैस चूल्हे से झुलस गई थी. ऊषा के दो बच्चे भी हैं.

अब ऊषा के परिवार से भी बन गया रिश्ता

इस घटनाक्रम के बाद किंजल और ऊषा के परिवार के बीच अनूठा रिश्ता बन गया. किंजल रोजाना परिवार के प्रकाश और हिना से फोन पर बात करती है. ऊषा की मां कहती हैं, ‘हमें भी ऐसा लगता है कि मानों हम ऊषा से ही बात कर रहे हों. ऊषा भी बचपन में ऐसे ही बातें करती थी.

 Reincarnation of kinjal rajsamand, Rebirth Story, Rajsamand News, Rebirth Story in Rajsamand, kinjal ki punarjanm ki kahani, reincarnation story in rajsamand, rajsamand kinjal rebirth story, rajasthan rebirth claim news, kinjal rajsamand rebirth, kinjal rajsamand reincarnation story in hindi rajasthan news, ajab gajab news,Kinjal Chundawat rajsamand reincarnation, राजसंद किंजल पुनर्जन्म, राजस्थान समाचार, राजसंद किंजल पुनर्जन्म पूरी कहानी, पुनर्जन्‍म का सच, rebirth story in india, latest rebirth cases in india, real stories of rebirth in india, real stories of rebirth in india in hindi, reincarnation in india, reincarnation in hinduism, reincarnation news, real stories of rebirth in india in hindi, story of Reincarnation in Rajsamand, Real Story of Rebirth, Reincarnation Real Story

Rajsamand Latest News: किंजल अब रोज ऊषा के परिवार के लोगों से फोन पर बात करती है….

ये भी पढ़ें: Shocking! पत्नी ने पति का कराया मर्डर, फिर लाश के बगल में प्रेमी के साथ रातभर किया रोमांस

हालांकि, किंजल की उम्र छोटी है और वह पूरी तरह से बोल भी नहीं पाती है, लेकिन इशारों ही इशारों में वह सब कुछ बयां कर देती है, जिसकी चाहत उषा का परिवार रखता है. किंजल के परिजनों ने पहले इसे बीमारी मानकर किंजल को डॉक्टर को भी दिखाया, लेकिन उन्होंने उसे पूरी तरह से स्वस्थ बता दिया. ऐसे में विशेषज्ञ डॉक्टर का कहना है कि कुछ बच्चों को पिछले जन्म की बातें याद रह जाती है.

Tags: Rajasthan news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर