लाइव टीवी

कोबरा ने बच्चे को डसा, जिंदा सांप को लेकर अस्पताल पहुंची मां...

tarun | News18 Rajasthan
Updated: June 26, 2019, 1:43 PM IST
कोबरा ने बच्चे को डसा, जिंदा सांप को लेकर अस्पताल पहुंची मां...
राजसमन्द - सांप के काटने के बाद अस्पताल में इलाजरत बच्चा

बेटे ने जब मां को बताया कि उसे सांप ने काट लिया है तब वह उसे जिवित पकड़ ली और बच्चे को लेकर जिला अस्पताल पहुंच गई.

  • Share this:
आमतौर पर किसी को यदि सांप नजर आ जाए तो वह घबराकर भाग जाता है. यदि सांप काट ले तो दहशत में ही उसके प्राण छूटने लगते हैं. ऐसी परिस्थिति में ये बात कोई मायने नहीं रखती कि सांप जहरीला भी है या नहीं. दरअसल देर रात सांप द्वारा एक लड़के को काटने की घटना राजसमन्द में घटी. राजसमंद के केलवा थाना क्षेत्र के आमेट गांव में रहने वाली एक मां के 12 वर्षीय बेटे दिनेश को रात में सांप ने डस लिया. बेटे ने जब यह बात अपनी मां को बताई तब उसने खुद भी उस सांप को देखा. इसके बाद उसने तुरंत अपने रिश्तेदारों को बुलवाकर सांप को जीवित ही पकड़ लिया. फिर वह बेटे के साथ जीवित सांप को लेकर जिला अस्पताल पहुंच गई. ड्यूटी पर तैनात मेडिकल स्टाफ ने जब सांप को देखा तो उनके होश फाख्ता हो गए. अस्पताल में लाया गया वह सांप कोबरा प्रजाति का था. फिर लोगों ने मिलकर हिम्मत जुटाई और कोबरा को जंगल में छोड़ दिया. इसके बाद पीड़ित लड़के का उपचार शुरू किया गया. फिलहाल जिला चिकित्सालय के ICU में लड़के का उपचार जारी है.

मां ने कोबरा को पकड़ा
इस पूरी घटना में एक अहसास यह भी है कि जब मां लक्ष्मी देवी को सांप द्वारा अपने बेटे को काटे जाने का पता चला तो उनकी ममता सांप का डर भी भूल गई. उसने कोबरा जैसे सांप को पकड़कर थैली में रख लिया ताकि अस्पताल में चिकित्सक देख सकें कि किस सांप ने उसके बेटे को काटा है.

अस्पताल में जीवित सांप लाना खतरनाक

वहीं इस मामले में अस्पताल प्रशासन का कहना है कि सांप के जहरीले या सामान्य होने की जांच के लिए सांप को मारकर या उसकी फोटो साथ लाने से इलाज करने में सुविधा होती है. इससे पीड़ित का उपचार जल्दी हो पाता है. लेकिन जीवित सांप को लाना खतरे से खाली नहीं है. आरके चिकित्सालय के शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. ललित पुरोहित ने कहा कि सुबह में एक बच्चे को अस्पताल में लाया गया जिसे सांप ने काट लिया था. उन्होंने कहा कि उसकी हालत बहुत गंभीर थी. फिर उन्होंने कहा कि उसकी हालत अब पहले से बेहतर है मगर खतरे से बाहर नहीं है.

ये भी पढ़ें - राजस्थान: हिंडौनसिटी की कई कॉलोनियों में आज पानी सप्लाई नहीं

ये भी पढ़ें - इधर दुल्हन हुई विदा... उधर रिश्तेदारों में चली तलवारें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए राजसमन्द‍ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 26, 2019, 1:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...