Home /News /rajasthan /

Good News : पानी, बेटी और जंगल बचाने का अनूठा संदेश, पौधरोपण कर 48 बेटियों के नाम की लगाईं तख्तियां

Good News : पानी, बेटी और जंगल बचाने का अनूठा संदेश, पौधरोपण कर 48 बेटियों के नाम की लगाईं तख्तियां

बेटी के नाम की जाती है 21 हजार की एफडी

बेटी के नाम की जाती है 21 हजार की एफडी

Exemplary initiative : इस खबर की सोच है कि बेटी घर की लक्ष्मी होती है. जैसे घर की बेटी को पाल पोस कर बड़ा किया जाता है. वैसे ही अगर पेड़-पौधों को भी बच्चों के जैसे पाल पोसकर बड़ा किया जाए तो दुनिया से आधे से ज्यादा संकट और बीमारियां अपने आप ही खत्म हो जाएंगी.

अधिक पढ़ें ...

    अलकेश सनाढ्य

    राजसमन्द. राजसमंद में पानी, बेटी और जंगल बचाने का अनूठा संदेश दिया गया है. यहां पर्यावरण महोत्सव में 1 साल में पैदा होने वाली बेटियों (Daughters) के जन्म का जश्न ढोल नगाड़ों के साथ मनाया जाता है. इस बार माताएं अपनी नवजात बेटियों को पालने में रखकर सिर पर उठाकर लेकर आईं. राजसमंद जिले (Rajsamand District) के पिपलांत्री में चल रहे पर्यावरण महोत्सव (environment Mahotsav) में इस बार यह सराहनीय पहल की गई है. इसके जरिए पानी, बेटी और जंगल बचाने का संदेश एक साथ देते हुए समाज को प्रेरित भी किया गया. अब बेटी के परिवारजन इस पौधे के पेड़ बनने तक उसकी देखभाल करेंगे. पिपलांत्री में पानी, बेटी और जंगल बचाने के लिए पर्यावरण महोत्सव पिछले 21 साल से मनाया जा रहा है. गांव में ग्रामीण पूरी दुनिया को बेटी, पानी, गोचर भूमि और वन्य जीवों को बचाने का संदेश दे रहे हैं.

    पेड़ों और बेटियों को बचाने की इस पहल में पर्यावरण महोत्सव के दौरान एक साल में जन्मी 48 बेटियों के नाम पर 101 पौधारोपण किया गया. हर पेड़ पर बेटी के नाम से नाम की तख्ती लगाई गई. यहां नवजात और बेटी की मां का अतिथि द्वारा सम्मान भी किया गया. ऐसे में पिपलांत्री की बगिया से बेटियों के नाम पर पौधरोपण कर राजसमंद दुनियाभर को पानी, बेटी और जंगल बचाने का संदेश दे रहा है.

    बिटिया के नाम की जाती है 21 हजार की एफडी
    महोत्सव में इस बार 48 बेटियों के नाम पर पौधरोपण किया गया. अब तक लगभग 90,000 पौधे बेटियों के नाम पर लगाए जा चुके हैं. पंचायत में कुल 4 लाख वृक्षारोपण किया जा चुका है. बेटी के जन्म पर परिजनों से ₹10,000 लिए जाते हैं. जन सहयोग से ₹11000 मिलाकर ₹21000 की एफडी बच्ची के नाम से दी जाती है. बेटी के जन्म के साथ ही परिजनों को पेड़ बचाने का संकल्प दिलाया जाता है. ऐसी पहल देशभर में शायद ही कहीं देखने को मिलती है.

    Tags: Acceptance of daughters, Forest area, Plantation, Rajasthan news in hindi, Wild life

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर