लाइव टीवी

राजसमंद: किसानों पर प्रकृति की मार, पाला पड़ने से सब्जियों की फसलें हुई बर्बाद

News18 Rajasthan
Updated: January 7, 2019, 9:50 AM IST
राजसमंद: किसानों पर प्रकृति की मार, पाला पड़ने से सब्जियों की फसलें हुई बर्बाद
राजसमंद: किसानों पर प्रकृति की मार, पाला पड़ने से सब्जियों की फसलें हुई बर्बाद

पाला पड़ने से किसानों द्वारा लगाई गई सब्जियों की फसलें बर्बाद हो गई है, राजसमंद के आमेट क्षेत्र के विभिन्न गांवों मे पपीता, टमाटर और बैंगन की फसलों में जोरदार खराबा हुआ है, इस खराबे से नुकसान का आंकलन करीब अस्सी फीसदी है.

  • Share this:
राजस्थान के राजसमंद जिले में सर्दी के मौसम में पाला पड़ने से किसानों द्वारा लगाई गई सब्जियों की फसलें बर्बाद हो गई है. राजसमंद के आमेट क्षेत्र के विभिन्न गांवों मे पपीता, टमाटर और बैंगन की फसलों में जोरदार खराबा हुआ है,  इस खराबे से नुकसान का आंकलन करीब अस्सी फीसदी बताया जा रहा है.

मंदी की मार झेल रहे किसानों के लिए फसलों में जोरदार खराबा किसी मौत से कम नहीं है, जिसके बाद परेशान किसानों ने सरकार से मदद की गुहार मांगी है. स्थानीय पंचायतों द्वारा खराबे की सूचना पर राजस्व अधिकारी और तहसीलदार मौके पर पंहुचे और खराबे का आंकलन कर सरकार को भेजने के लिए रिपोर्ट तैयार की.

आंकलन के अनुसार ढेलाणा गांव मे करीब छह बीघे में बोई हुई टमाटर की फसल पूरी तरह से बर्बाद हो चुकी है, जिसकी कीमत करीब चार लाख रुपए आंकी गई है,  इसी तरह लाखागुडा मे करीब डेढ़ लाख रुपए के पपीते की फसल भी खराब हो चुकी है और तेज सर्दी से एक लाख रुपए के बैंगन की फसल भी खराब हो चुकी है.

इस भारी खराबे के बाद अब किसानों की नजर सरकार की ओर है,  जहां उन्हें इस प्राकृतिक आपदा से हुए नुकसान का क्या मुआवजा मिलता है? आमेट तहसीलदार किशनलाल मीणा का कहना है कि सरकार के निर्देशानुसार खराबे का आंकलन कर लिया गया है,  इसकी पूरी रिपोर्ट राज्य सरकार को भिजवाई जाएगी और निर्देशानुसार मुआवजा राशि दी जाएगी.

( राजसमंद में तरूण की रिपोर्ट )

यह भी देखें-  VIDEO: सब्जियों की फसल को ठंड से बचाने में जुटे किसान

यह भी पढ़ें- राजसमंद में फसल खराबे से दुखी किसान ने की आत्महत्या, गांव में पसरा सन्नाटाएक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए राजसमन्द‍ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 7, 2019, 9:50 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर