Home /News /rajasthan /

Rajasthan: फर्जी दस्तावेज से हासिल की टीचर की नौकरी, फिर हुई FIR, डेढ़ साल बाद गिरफ्तार

Rajasthan: फर्जी दस्तावेज से हासिल की टीचर की नौकरी, फिर हुई FIR, डेढ़ साल बाद गिरफ्तार

इंद्रा खुंगर को फर्जी दस्तावेज के आधार पर नौकरी प्राप्त करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

इंद्रा खुंगर को फर्जी दस्तावेज के आधार पर नौकरी प्राप्त करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

Rajsamand News : राजसमंद की महिला इंद्रा खुंगर ने फर्जी दस्तावेजों के नौकरी तो हासिल कर ली, लेकिन जल्द ही मामला उजागर हो गया. प्रशासन ने एफआईआर दर्ज कर ली तो वह फरार हो गई. पूरे 18 माह फरारी काटी. अब पुलिस ने हनुमानगढ़ से गिरफ्तार किया है. शिक्षिका की नौकरी पेटे तनख्वाह प्राप्त करने की एवज में 2 लाख रुपए की रिकवरी की गई.

अधिक पढ़ें ...

    राजसमन्द. फर्जी दस्तावेज सरकारी नौकरी हासिल करने वाली शिक्षिका की पोल आखिरकार खुल गई. शिक्षिका द्वारा पेश किए गए दस्तावेजों की जांच की गई तो वह फर्जी पाए गए. शिक्षिका को राजनगर पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार किया है. राजनगर थाने में 28 अप्रैल 2021 को राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय मोडारड़ा का खेड़ा आगरिया आमेट की शिक्षिका के खिलाफ मामला दर्ज हुआ था.

    फर्जी दस्तावेज के आधार पर नौकरी करने के आरोप में हनुमानगढ़ से आरोपी शिक्षिका को गिरफ्तार किया गया. शिक्षिका के खिलाफ 2018 शिक्षक भर्ती में फर्जी दस्तावेज पेश कर नौकरी करने के आरोप पर जिला शिक्षा अधिकारी प्राथमिक राजसमंद ने प्रकरण दर्ज करवाया था.

    तनख्वाह की एवज में 2 लाख रुपये की रिकवरी
    थानाधिकारी डॉ. हनवंतसिंह राजपुरोहित के मुताबिक हनुमानगढ़ निवासी अध्यापिका इंद्रा खुंगर को फर्जी दस्तावेज के आधार पर नौकरी प्राप्त करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. शिक्षा विभाग के साथ धोखाधड़ी करने के आरोप में हनुमानगढ़ से गिरफ्तार किया गया. शिक्षिका की नौकरी पेटे तनख्वाह प्राप्त करने की एवज में 2 लाख रुपए की रिकवरी की गई.

    Rajasthan News: सिर्फ 1000 रुपये के लिए दोस्तों ने की छात्र की निर्मम हत्या, बनाया Live Video

    पिछले डेढ़ साल से फरार चल रही थी शिक्षिका
    शिक्षिका के बीए फाइनल हनुमानगढ़ कॉलेज से करने की सूचना मिलने पर पुलिस टीम के एएसआई कालुराम, कांस्टेबल विरेंद्र और निर्मला ने दबिश देकर गिरफ्तार किया. शिक्षिका के खिलाफ 28 अप्रैल 2021 को जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक सोहनलाल रेगर ने लिखित रिपोर्ट देकर बताया कि आमेट उपखंड के आगरिया ग्राम पंचायत स्थित राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय मोडारडा का खेडा में हनुमानगढ़ निवासी इंद्रा खुंगर शिक्षिका पर नियुक्त थी. शिक्षिका पिछले डेढ़ साल से फरार चल रही थी.

    स्नातक की तीनों वर्षों की अंक तालिकाएं फर्जी
    शिक्षिका इंद्रा ने 31 जुलाई 2018 को जारी विज्ञापन राजस्थान प्राथमिक एंव उच्च प्राथमिक विद्यालय भर्ती 2018 गैर अनुसुचित क्षेत्र विषय सामाजिक विज्ञान के लिए राजकीय बालिका उच्च प्राथमिक विद्यालय पातुसरी झुंझुनु में जिला शिक्षा अधिकारी मुख्यालय प्राशि झुंझुनू के पास प्रस्तुत डिग्री और प्रमाण पत्रों की जांच कराई. सीएमजे युनिर्वसिटी मेघालय से जारी स्नातक की तीनों वर्षों की अंक तालिकाएं फर्जी पाए जाने के कारण जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक शिक्षा झुंझुनूं के आदेश पर 23 अक्टूबर 2019 को शिक्षिका इंद्रा खुंगर को राज्य सेवा से हटा दिया गया था.

    Tags: Crime in Rajasthan, Fake documents, Rajasthan news, Rajasthan news in hindi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर