मां और पत्नी के साथ जयपुर पहुंचे रॉबर्ट वाड्रा, आज होगी ED के सामने पेशी

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बीकानेर के कोलायत में जमीन घोटाले से जुड़े मामले में पिछले दिनों 64.5 लाख रु. की संपत्ति को अटैच किया है. इस केस में अब तक प्रवर्तन निदेशालय 1.82 करोड़ रु. की संपत्ति अटैच कर चुका है

News18Hindi
Updated: February 12, 2019, 4:56 PM IST
News18Hindi
Updated: February 12, 2019, 4:56 PM IST
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद और प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा की आज जयपुर में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के सामने पेशी होगी. ये बीकानेर के कोलायत में जमीन घोटाले से जुड़ा एक मामला है. रॉबर्ट वाड्रा आज सुबह 10:30 बजे ईडी ऑफिस पहुंचेंगे.

ईडी के सामने पेश होने के लिए रॉबर्ट वाड्रा सोमवार को ही जयपुर पहुंच चुके हैं. वाड्रा के साथ उनकी मां भी आई हैं. सोमवार देर शाम प्रियंका गांधी भी लखनऊ में रोड शो करने के बाद जयपुर पहुंच गईं. इससे पहले पिछले हफ्ते दिल्ली में मनी लॉन्ड्रिंग के एक केस में ईडी ने वाड्रा से तीन दिनों तक लंबी पूछताछ की थी.

क्या है पूरा मामला?
बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बीकानेर के कोलायत में जमीन घोटाले से जुड़े मामले में पिछले दिनों 64.5 लाख रु. की संपत्ति को अटैच किया है. इस केस में अब तक प्रवर्तन निदेशालय 1.82 करोड़ रु. की संपत्ति अटैच कर चुका है. यह संपत्ति 12 लोगों व एक कंपनी डॉफिन डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड की है जो जमीन घोटाले से जुड़े बताए जा रहे हैं. इसी कंपनी से राबर्ट वाड्रा जुड़े हुए हैं और इसी मामले में ईडी के सामने वाड्रा की पेशी होनी है.

विस्थापित लोगों को अलॉट की जानी थी जमीन


घोटाले में फंसी इस जमीन को बीकानेर के महाजन फील्ड फायरिंग रेंज के विस्थापित लोगों को अलॉट की किया जाना था. ईडी की यह कार्रवाई प्रीवेंशन ऑफ मनी लॉड्रिंग एक्ट के तहत की गई है. इस मामले में कोलायत और बीकानेर के थानों में 18 एफआईआर दर्ज हैं. ये एफआईआर अगस्त और सितंबर 2014 में दर्ज की गई थी. अगस्त 2015 में इस मामले में आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दायर की गई थी.

खाली अलॉटमेंट लैटर और स्टैंप चुराए गए थे
Loading...

ईडी की जांच में पाया गया था कि जमीन घोटाले से जुड़े लोग सरकारी जमीन हथियाने के फेर में थे. इनमें आरोपी रणजीत सिंह और जयप्रकाश ने बीकानेर स्थित कॉलोनाइजेशन विभाग के दफ्तर से खाली अलॉटमेंट लैटर और स्टैंप चुराए थे. ये कागज उस खाली सरकारी जमीन के थे जो महाजन फील्ड फायरिंग रेंज के विस्थापित लोगों को अलॉट की जानी थी.

ये भी पढ़ें:

ANALYSIS: क्या मुसलमानों पर चल पाएगा प्रियंका गांधी का जादू?

ED के सामने पेश होने रॉबर्ट वाड्रा मां के साथ जयपुर पहुंचे, होटल में बुक कराए 7 कमरे

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर