Home /News /rajasthan /

सवाईमाधोपुर में दुष्कर्म की झूठी धमकी देकर ज्वैलर से ऐंठे साढ़े 26 लाख रुपए

सवाईमाधोपुर में दुष्कर्म की झूठी धमकी देकर ज्वैलर से ऐंठे साढ़े 26 लाख रुपए

पुलिस गिरफ्त में आरोपी। फोटो: न्यूज 18 राजस्थान

पुलिस गिरफ्त में आरोपी। फोटो: न्यूज 18 राजस्थान

सवाईमाधोपुर में एक प्रेमी युगल ने पैसे कमाने के लिए एक ज्वैलर को दुष्कर्म के आरोप में फंसाने की धमकी देकर उससे करीब साढ़े 26 लाख रुपए ऐंठ लिए. बदनामी के डर से रुपए दे देकर थक चुके ज्वैलर ने आखिरकार पुलिस की शरण ली.

    सवाईमाधोपुर में एक प्रेमी युगल ने पैसे कमाने के लिए एक ज्वैलर को दुष्कर्म के आरोप में फंसाने की धमकी देकर उससे करीब साढ़े 26 लाख रुपए ऐंठ लिए. बदनामी के डर से रुपए दे देकर थक चुके ज्वैलर ने आखिरकार पुलिस की शरण ली. इस पर पुलिस ने युवती के प्रेमी समेत उनका साथ देने वाले दो अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. युवती अभी फरार है. पुलिस उसे तलाश कर रही है.

    थानाधिकारी नेमीचन्द ने बताया कि सवाईमाधोपुर जिले के बौंली तहसील क्षेत्र के रतनपुरा गांव निवासी पृथ्वीराज मीणा और उसकी प्रेमिका ने मिलकर रुपए कमाने का योजना बनाई. इसके लिए युवती ने फोन के माध्यम से बजरीया स्थित ज्वैलर राजेन्द्र जैन को अपने प्रेमजाल में फंसाया. फिर उसे जयपुर जिले के कौथुन कस्बे में मिलने के लिये बुलाया.

    कौथुन में जब राजेन्द्र युवती से मिला तो योजनाबद्ध रूप से पहले से वहां छिपे पृथ्वीराज और उसके दो साथियों ने राजेन्द्र को दबोच लिया. उन्होंने राजेन्द्र को युवती से दुष्कर्म करने का मुकदमा दर्ज करवाने की धमकी दी. इस पर राजेन्द्र जैन सहम गया तो आरोपियों ने उसे ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया. फरवरी 2017 से लेकर अब तक आरोपी राजेन्द्र को ब्लैकमेल करते हुए उससे साढ़े 26 लाख रुपये हड़प चुके हैं.

    ब्लैकमेल का सिलसिला थमता नहीं देखकर पिड़ित ने आखिरकार कोतवाली में उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया. इस पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए पृथ्वीराम मीणा सहित उसके दो साथियों नरेन्द्र और दिलखुश को गिरफ्तार कर लिया. लेकिन युवती अभी तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

    Tags: Rajasthan news, Sawai madhopur news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर