हादसा नहीं, जिला परिषद सदस्य की हुई थी हत्या, 4 गिरफ्तार
Sawai-Madhopur News in Hindi

हादसा नहीं, जिला परिषद सदस्य की हुई थी हत्या, 4 गिरफ्तार
5 दिन पहले जिला परिषद सदस्य गिर्राज मीना की जीप की टक्कर से हुई मौत की गुत्थी पुलिस ने सुलझा दी है.

5 दिन पहले जिला परिषद सदस्य गिर्राज मीना की जीप की टक्कर से हुई मौत की गुत्थी पुलिस ने सुलझा दी है.

  • Share this:
राजस्थान के सवाई माधोपुर जिले में 5 दिन पहले जिला परिषद सदस्य गिर्राज मीना की जीप की टक्कर से हुई मौत की गुत्थी पुलिस ने सुलझा दी है. जो मामला जहां दुर्घटना में मौत का प्रतीत हुआ था वही अब पुलिस तफ्तीश में षड़यंत्र रचकर हत्या करने का निकला है. आश्चर्य की बात ये कि हत्या करने का मुख्य सूत्रधार मृतक का जवांई ही निकला. मृतक गिर्राज मीना और दामाद संतोष मीना के बीच मृतक की पुत्री प्रियंका को लेकर विवाद चल रहा था. इस पर संतोष ने ससुर की हत्या करने का षडयंत्र रचा.

संतोष ने अपने साथ तीन अन्य युवकों को भी इस षडयंत्र में शामिल किया और हत्या करने की साजिश ऐसी रची कि हत्या दुर्घटना लगे. पुलिस के अनुसार हत्यारों ने चोरी की एक जीप खरीदी और जीप से टक्कर मारी.

वहीं हड़बड़ाहट में दुर्घटना के वक्त जीप पलट गई. जिसे पुलिस ने उसी दिन जब्त कर लिया था. लेकिन उसी दौरान पहले से बाइक लेकर मौजूद अन्य दो लोगों के साथ जीप चालक मौके से फरार हो गया. जिससे पुलिस का शक षडयंत्र की और गहरा गया था.



गहन तफ्तीश करते हुए मृतक के दामाद संतोष मीना, पड़ोसी दीपक मीना, अजय मीना तथा पंकज को गिरफ्तार किया गया है.
मामन सिंह] एसपी, सवाई माधोपुर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading