लाइव टीवी

सवाई माधोपुर: 1 और राहगीर को रौंद डाला बजरी माफिया ने, मौत से गुस्साए ग्रामीणों ने लगाया जाम
Sawai-Madhopur News in Hindi

Giriraj Sharma | News18 Rajasthan
Updated: February 25, 2020, 12:09 PM IST
सवाई माधोपुर: 1 और राहगीर को रौंद डाला बजरी माफिया ने, मौत से गुस्साए ग्रामीणों ने लगाया जाम
हादसा मलारना डूंगर कस्बे के भूखा मोड़ पर हुआ.

अवैध बजरी परिवहन माफिया (Illegal gravel transport mafia) ने सवाई माधोपुर जिले के मलारना डूंगर (Malarna Dungar) इलाके में एक और व्यक्ति को रौंद डाला. अवैध बजरी से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली (Tractor trolley) की टक्कर से व्यक्ति की मौके पर ही मौत (Death) हो गई.

  • Share this:
सवाई माधोपुर. अवैध बजरी परिवहन माफिया (Illegal gravel transport mafia) ने जिले के मलारना डूंगर (Malarna Dungar) इलाके में एक और व्यक्ति को रौंद डाला. अवैध बजरी से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली (Tractor trolley) की टक्कर से व्यक्ति की मौके पर ही मौत (Death) हो गई. हादसे के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने बजरी माफियाओें और पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर जाम (Jam) लगा दिया. इससे पुलिस-प्रशासन के हाथ पांव फूल गए. बाद में बमुश्किल ग्रामीणों को समझा-बुझाकर रास्ता खुलवाया जा सका. पुलिस ने ट्रैक्टर ट्रॉली को जब्त कर लिया है. मृतक का शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया है.

हादसा मलारना डूंगर कस्बे के भूखा मोड़ पर हुआ
जानकारी के अनुसार हादसा मलारना डूंगर कस्बे के भूखा मोड़ पर सोमवार को दोपहर बाद में हुआ. डिडवाड़ी गांव निवासी भरतलाल माली और उसकी पत्नी भागवती मलारना डूंगर कस्बे में तीये की बैठक में शामिल होकर बाइक से वापस अपने गांव लौट रहे थे. इसी दौरान अवैध बजरी से भरी एक ट्रैक्टर ट्रॉली ने अनियंत्रित होकर उनको अपनी चपेट में ले लिया. इससे भरतलाल की मौके पर मौत हो गई और भागवती गंभीर घायल हो गई. भरतलाल की मौत के बाद आक्रोशित भीड़ का पुलिस और प्रशासन के खिलाफ गुस्सा फूट पड़ा. गुस्साई भीड़ ने पहले तो पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों को जमकर खरी-खोटी सुनाई. उसके बाद हाईवे पर जाम लगा दिया.

ढाई घंटे की मशक्कत के बाद खोला जाम



जाम की सूचना पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धर्मेंद्र यादव, डिप्टी कृष्णा सांवरिया, बाटोदा, सूरवाल और सवाई माधोपुर से अतिरिक्त पुलिस बल के साथ मलारना डूंगर पहुंचे. वहीं एसडीएम मनोज वर्मा, तहसीलदार किशन मुरारी मीना, नायब तहसीलदार अमितेश मीणा और थानाधिकारी जितेंद्र सिंह ने भी मौके पर पहुंचकर आक्रोशित भीड़ से समझाइश की. लेकिन गुस्साई भीड़ लापरवाह पुलिसकर्मियों को निलंबित करने, मृतक के परिजनों को 15 लाख का मुआवजा और सरकारी नौकरी देने के साथ ही बजरी माफियाओं के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई करने की मांग पर अड़ गई. करीब ढाई घंटे बाद पुलिस-प्रशासन ने समझाइश कर जाम खुलवाया. जाम के चलते हाईवे पर दोनों तरफ 2 किलोमीटर तक वाहनों की लंबी कतार लग गईं.

 

NAGAUR VIRAL VIDEO CASE: विधानसभा में बरपा हंगामा, BJP-RLP ने किया वॉकआउट

 
NAGAUR VIRAL VIDEO CASE: पांचौड़ी थानाप्रभारी को हटाया जाएगा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सवाई माधोपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 25, 2020, 12:07 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर