लाइव टीवी

बाघ ने बालक को बनाया अपना शिकार, गुस्साए ग्रामीणों ने मुआवजे की मांग को लेकर दिया धरना

Giriraj Sharma | News18 Rajasthan
Updated: October 8, 2019, 10:57 AM IST
बाघ ने बालक को बनाया अपना शिकार, गुस्साए ग्रामीणों ने मुआवजे की मांग को लेकर दिया धरना
बालक के शव को रखकर धरना प्रदर्शन करते ग्रामीण

  • Share this:
सवाई माधोपुर. राजस्थान (rajasthan) के सवाई माधोपुर जिले के डांगरवाड़ा गांव में खेत पर बैठे लड़के पर बाघ ने हमला (Tiger attacked)  कर दिया जिसमें उसकी मौत (dead) हो गई. घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीण मृत बालक के शव को लेकर धरने पर बैठ गए. ग्रामीण बालक के शव के साथ रात भर धरने पर बैठे रहे. वहीं सूचना मिलने के साथ ही एसडीएम रघुनाथ खटीक एवं पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों से समझाइश की, लेकिन ग्रामीण नहीं मानें.

मुआवजे की मांग को लेकर किया धरना प्रदर्शन

ग्रामीण 25 लाख रुपए के मुआवजे की मांग (Demand for compensation) के साथ ही फॉरेस्ट रेंजर (Forest ranger) एवं संबंधित वनकर्मियों को निलंबित करने की मांग पर अड़े हुए हैं. ग्रामीणों का कहना है कि टाइगर ने 2 दिन पहले इलाके में शिकार किया था. इलाके में पांच दिनों से बाघ का मूवमेंट है. बाघ के मूवमेंट को लेकर ग्रामीणों द्वारा वन विभाग (Forest Department) के अधिकारियों को सूचना दी गई थी, लेकिन वन विभाग का कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा और ना ही बाघ की ट्रैकिंग की. नतीजा यह हुआ की सोमवार को बाघ ने एक बालक पर हमला कर दिया, जिससे उसकी मौत हो गई.

ग्रामीणों ने शव का अंतिम संस्कार नहीं करने की दी चेतावनी

ग्रामीणों का कहना है कि बालक की मौत के बाद भी वन विभाग का कोई भी अधिकारी अभी तक मौके पर नहीं पहुंचा है. ग्रामीणों ने कहा कि जब तक मृतक बालक के परिजनों को 25 लाख का मुआवजा और संबंधित तीनों अधिकारियों को निलंबित नहीं किया जाएगा, तब तक धरना जारी रहेगा और किसी भी हाल में शव का अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा.

यह भी पढ़ें- कलेक्टर के नाम पर पीए मांगता है पटवारियों से पैसा, ऑडियो वायरल होने के बाद हुआ विरोध प्रदर्शन

यह भी पढ़ें-10 साल से खुद के बाल खा रही थी युवती, पेट से निकला 600 ग्राम बालों का गुच्छा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सवाई माधोपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 8, 2019, 10:57 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...