Home /News /rajasthan /

बाघ ने बालक को बनाया अपना शिकार, गुस्साए ग्रामीणों ने मुआवजे की मांग को लेकर दिया धरना

बाघ ने बालक को बनाया अपना शिकार, गुस्साए ग्रामीणों ने मुआवजे की मांग को लेकर दिया धरना

बालक के शव को रखकर धरना प्रदर्शन करते ग्रामीण

बालक के शव को रखकर धरना प्रदर्शन करते ग्रामीण

सवाई माधोपुर. राजस्थान (rajasthan) के सवाई माधोपुर जिले के डांगरवाड़ा गांव में खेत पर बैठे लड़के पर बाघ ने हमला (Tiger attacked)  कर दिया जिसमें उसकी मौत (dead) हो गई. घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीण मृत बालक के शव को लेकर धरने पर बैठ गए. ग्रामीण बालक के शव के साथ रात भर धरने पर बैठे रहे. वहीं सूचना मिलने के साथ ही एसडीएम रघुनाथ खटीक एवं पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों से समझाइश की, लेकिन ग्रामीण नहीं मानें.

मुआवजे की मांग को लेकर किया धरना प्रदर्शन

ग्रामीण 25 लाख रुपए के मुआवजे की मांग (Demand for compensation) के साथ ही फॉरेस्ट रेंजर (Forest ranger) एवं संबंधित वनकर्मियों को निलंबित करने की मांग पर अड़े हुए हैं. ग्रामीणों का कहना है कि टाइगर ने 2 दिन पहले इलाके में शिकार किया था. इलाके में पांच दिनों से बाघ का मूवमेंट है. बाघ के मूवमेंट को लेकर ग्रामीणों द्वारा वन विभाग (Forest Department) के अधिकारियों को सूचना दी गई थी, लेकिन वन विभाग का कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा और ना ही बाघ की ट्रैकिंग की. नतीजा यह हुआ की सोमवार को बाघ ने एक बालक पर हमला कर दिया, जिससे उसकी मौत हो गई.

ग्रामीणों ने शव का अंतिम संस्कार नहीं करने की दी चेतावनी

ग्रामीणों का कहना है कि बालक की मौत के बाद भी वन विभाग का कोई भी अधिकारी अभी तक मौके पर नहीं पहुंचा है. ग्रामीणों ने कहा कि जब तक मृतक बालक के परिजनों को 25 लाख का मुआवजा और संबंधित तीनों अधिकारियों को निलंबित नहीं किया जाएगा, तब तक धरना जारी रहेगा और किसी भी हाल में शव का अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा.

यह भी पढ़ें- कलेक्टर के नाम पर पीए मांगता है पटवारियों से पैसा, ऑडियो वायरल होने के बाद हुआ विरोध प्रदर्शन

यह भी पढ़ें-10 साल से खुद के बाल खा रही थी युवती, पेट से निकला 600 ग्राम बालों का गुच्छा

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर