होम /न्यूज /राजस्थान /Rajasthan: सीकर में कोचिंग संचालक के 9 साल के बेटे का अपहरण, पुलिस-प्रशासन में मचा हड़कंप

Rajasthan: सीकर में कोचिंग संचालक के 9 साल के बेटे का अपहरण, पुलिस-प्रशासन में मचा हड़कंप

सीकर में अपरहण की वारदात के पूछताछ में जुटी पुलिस.

सीकर में अपरहण की वारदात के पूछताछ में जुटी पुलिस.

Sikar Crime News: एजुकेशन सिटी सीकर से मंगलवार को सुबह-सुबह एक कोचिंग सेंटर के मालिक के 9 वर्षीय बेटे का अपहरण (Kidnapp ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

अपहरण की वारदात सुबह 8 बजे हुई
मासूम अपने नाना के साथ स्कूल जा रहा था
बोलेरो गाड़ी में सवार होकर आए थे अपहरणकर्ता

संदीप हुड्डा.

सीकर. शेखावाटी के सबसे बड़े शहर सीकर (Sikar City) जिला मुख्यालय से मंगलवार को एक कोचिंग सेंटर के मालिक के बेटे मासूम बच्चे का अपहरण (Kidnapping) कर लिया गया. एजुकेशन सिटी सीकर शहर में सुबह-सुबह हुई इस वारदात से हड़कंप मच गया. पुलिस ने बच्चे के अपहरण की सूचना के बाद सीकर, नागौर और झुंझुनूं जिले सहित आसपास के इलाकों में नाकाबंदी करवाई है लेकिन अपहृत बच्चे का अभी तक कोई सुराग नहीं लग पाया है. दूसरी तरफ बच्चे के परिजनों का रो-रोकर बुरा हो गया है. पुलिस के आलाधिकारी पूरे मामले पर नजर बनाए हुए हैं.

जानकारी के अनुसार अपहरण की वारदात सुबह करीब आठ बजे हुई. अपहृत बच्चे के पिता महावीर हुड्डा ने बताया कि उनके 9 साल के बेटे गुन्नू को रोज की तरह उसके नाना देशाराम स्कूल छोड़ने के लिए जा रहे थे. इसी दौरान स्कूल से कुछ दूरी पहले बिना नंबरों की बोलरो गाड़ी आई. उन्होंने देशाराम की स्कूटी को रुकवाया. इसके बाद देसाराम को स्कूटी ढंग से चलाने की बात कही. इसी बीच बदमाश गुन्नू को अपने साथ लेकर फरार हो गए. अपहरण की वारदात के बाद से दोपहर तक बच्चे का कोई सुराग नहीं लग पाया है.

एक महिला ने देखा बच्चे का अपहरण करते हुए
महावीर हुड्डा का कहना है कि बदमाशों की यही गाड़ी सोमवार को भी रैकी करने के लिए आई थी. जैसे ही बच्चे के किडनैप की सूचना मिली एसपी कुंवर राष्ट्रदीप सहित पुलिस के तमाम अधिकारी भी मौके पहुंच गए और बच्चे की तलाश शुरू करवाई. घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाले. इस घटना को सूरजमल कॉलोनी की रहने वाली एक महिला ने देखा.

शहर में आग की तरफ फैल गई सूचना
उसने बताया कि बोलेरा गाड़ी बच्चे और उसके नाना के पीछे पीछे से आई थी. उसने पहले उनकी स्कूटी को रुकवाया. इसके बाद गाड़ी में सवार लोगों ने बच्चे के नाना से बात करना शुरू की. कुछ ही देर में बच्चे को गाड़ी में डालकर ले गए. महावीर हुड्डा ने अपने बेटे के किडनैप को लेकर किसी पर शक नहीं जताया है. हुड्डा कोचिंग सेंटर चलाते हैं. अपहरण की वारदात की जानकारी में शहर आग की तरह फैल गई.

बोलेरो गाड़ी में दो लोग सवार बताए जा रहे हैं
उसके बाद हुड्डा के घर पर परिचितों के साथ ही जनप्रतिनिधियों और अन्य लोगों की भीड़ एकत्र हो गई.बोलेरो गाड़ी में दो युवक सवार बताए जा रहे हैं. अपहरणकर्ता जैसे ही बच्चे को लेकर भागे तो उसके नाना उनका पीछा भी किया लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है और मासूम को बरामद करने की कोशिश की जा रही है.

अपहरणकर्ताओं ने अभी तक नहीं की फिरौती की मांग
परिजनों का कहना है कि अपहरण आखिर किस वजह से किया गया है यह अभी तक साफ नहीं हो पाया है. बदमाशों ने भी अभी तक किसी तरह की फिरौती की मांग भी नहीं की है. बताया जा रहा है कि अपहरणकर्ताओं की गाड़ी झुंझुनूं जिले में देखी गई है. उसके बाद से झुंझुनूं पुलिस भी बदमाशों के पीछे लगी है. बहरहाल अपहरण की इस वारदात के बाद शहर में बच्चों को लेकर भय का माहौल बना हुआ है.

Tags: Crime News, Kidnapping Case, Rajasthan news, Sikar news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें