राजस्थान: कोरोना काल में अब वन विभाग बढ़ाएगा आपकी 'इम्युनिटी', औषधीय पौधे बांटेगा, यह है मेगा प्लान

वन विभाग की ओर से तैयार कराये जा रहे इन पौधों में कालमेघ, अश्वगंधा, तुलसी और गिलोय के पौधे शामिल हैं.

वन विभाग की ओर से तैयार कराये जा रहे इन पौधों में कालमेघ, अश्वगंधा, तुलसी और गिलोय के पौधे शामिल हैं.

Now forest department will increase your Immunity: कोरोना काल में लोगों की इम्युनिटी पावर बढ़ाने के लिये वन विभाग नया प्रयोग करने जा रहा है. वन विभाग इस बार बारिश के सीजन में औषधिय पौधों (Medicinal plants) का वितरण करेगा.

  • Share this:

सीकर. कोरोना वायरस के संकट (Corona crisis) के बीच लोगों की इम्युनिटी (Immunity) बढ़ाने और उन्हें रोगों से दूर रखने के लिए वन विभाग इस बार औषधीय पौधों (Medicinal plants) का वितरण करेगा. वन विभाग ने इसकी तैयारी भी कर ली है. सीकर जिले में इसके लिये वन विभाग (Forest department) लगभग 19 लाख 49 हजार औषधीय पौधे तैयार करवा रहा है. जिलेभर में वन विभाग की नर्सरियों में ये पौधे तैयार हो रहे हैं. बरसात के सीजन में इनको लोगों को वितरित किया जाएगा.

आमतौर पर वन विभाग का काम हरियाली बढ़ाना होता है. इसके लिए वन विभाग बड़े स्तर पर पौधरोपण भी करवाता है. लेकिन अब वन विभाग आपकी इम्युनिटी भी बढ़ाएगा और औषधीय गुणों से भरपूर भी रखेगा. कोरोना वायरस के संकट के कारण लोगों की इम्युनिटी बढ़ाने और उन्हें रोगों से दूर रखने के लिए यह फैसला लिया गया है.

Youtube Video

इनमें कालमेघ, अश्वगंधा, तुलसी और गिलोय के पौधे शामिल हैं
वन विभाग की ओर से तैयार कराये जा रहे इन पौधों में कालमेघ, अश्वगंधा, तुलसी और गिलोय के पौधे शामिल हैं. वन विभाग की योजना के अनुसार जिले में हर घर को 8 औषधिय पौधे दिए जाएंगे. इनमें चारों प्रजाति के दो-दो पौधे शामिल होंगे. पहले साल में वन विभाग की ओर से 50 फीसदी परिवारों को ये पौधे वितरित किये जाने का लक्ष्य तय किया गया है. सीकर के डीएफओ भीमाराम चौधरी का कहना है कि जिलेभर में औषधीय पौधे तैयार हो रहे हैं. ये पौधे कोरोना वायरस जैसी महामारी के संकट में बहुत कारगर साबित होंगे.

अभियान सफल रहा तो आगे बढ़ेगा काम

वन विभाग हर बार केवल छायादार और फलदार पौधे ही वितरित करता है. ऐसा पहली बार होगा कि आमजन को औषधीय पौधे वितरित किए जाएंगे. वन विभाग का मानना है कि घर घर में औषधीय पौधे होने से लोग इन्हें अपनी इम्युनिटी बढ़ाने के काम में लेंगे ताकि महामारी का मुकाबला किया जा सके. अगर यह अभियान सफल रहा तो वन विभाग और भी कई तरह के औषधीय पौधे तैयार करवाएगा और लोगों को बांटेगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज