सीकर के अंकित को फेसबुक ने दिए 2.55 करोड़ रुपए, जानें सफलता की कहानी

News18 Rajasthan
Updated: May 14, 2019, 6:03 PM IST
सीकर के अंकित को फेसबुक ने दिए 2.55 करोड़ रुपए, जानें सफलता की कहानी
फेसबुक कंपनी की सांकेतिक तस्वीर

सीकर के अंकित महरिया को फेसबुक ने 2.55 करोड़ रुपए दिए हैं. अंकित ने बिट्स पिलानी से मैथेमेटिक्स से एमएससी और कम्प्यूटर में बीई ऑनर्स किया है.

  • Share this:
सीकर जिले के कूदन गांव के 25 वर्षीय अंकित महरिया को फेसबुक कंपनी ने 2.55 करोड़ का पैकेज दिया है. अंकित की इस उपलब्धि पर गांव में जश्न का माहौल है. यूनिवर्सिटी ऑफ विस्कोनसीन मेडिसन अमेरिका से मास्टर ऑफ कम्प्यूटर सांइस की पढ़ाई करने वाले अंकित महरिया फेसबुक कंपनी के वाट्सएप ग्रुप में सॉफ्टवेयर इंजीनियर बने हैं. अंकित ने पढ़ाई के साथ ही फेसबुक कंपनी में ही इंटर्नशिप शुरू कर दी थी. इंटर्नशिप पूरी होने के तुरंत बाद ही डिग्री मिलने से पहले ही अंकित को कंपनी ने नौकरी  का ऑफर दे दिया. सॉफ्टवेयर इंजीनियर पद स्वीकार करते फेसबुक ने अंकित को 52 लाख 83 हजार 412 रुपए का एडवांस बोनस दे दिया. साथ ही एक करोड़ 5 लाख 70 हजार 575 रुपए के शेयर मिले. अब सालाना 97 लाख 21 हजार 779 रुपए वेतन मिल रहा है.

अंकित ने बिट्स पिलानी से मैथेमेटिक्स से एमएससी और कम्प्यूटर में बीई ऑनर्स किया है. बिट्स पिलानी में पढ़ाई करने के बाद एक साल गुडग़ांव एक सॉफ्टवेयर कंपनी में भी काम किया. जीआरई और टोफेल टेस्ट पास करने के बाद उसका एमएस के लिए चयन हो गया. सात-आठ महीने वीजा और दस्तावेज तैयार करने में जो समय लगा उस दौरान अंकित मुंबई में हाउसिंग डॉट कॉम कंपनी में काम किया. अंकित 2017 के अगस्त में यूएस चला गया. वहां उसने दो साल का कोर्स डेढ़ साल में ही पूरा कर लिया और फरवरी में कंपनी ज्वाइंन कर ली. दो साल पूरे होने के बाद अंकित को 11 मई को डिग्री मिली है. अंकित के पिता डॉ. अशोक महरिया सीकर में अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी है.

ये भी पढ़ें-
भारत में WhatsApp Payment की तैयारी तेजी पर, फेसबुक ने किया ये फैसला


चीन के सबसे अमीर शख्स की कंपनी में नौकरी के लिए नहीं चाहिए डिग्री!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सीकर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 14, 2019, 6:03 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...