लव जिहाद: तीन बच्चों के पिता इमरान ने कबीर शर्मा बनकर हिंदू लड़की से रचाई शादी, ऐसे खुली पोल

News18 Rajasthan
Updated: May 31, 2019, 10:32 AM IST
लव जिहाद: तीन बच्चों के पिता इमरान ने कबीर शर्मा बनकर हिंदू लड़की से रचाई शादी, ऐसे खुली पोल
सांकेतिक तस्वीर

युवती के पिता ने शादी के दौरान मोबाइल में खींची गई फोटो परिचितों को दिखाई. इस दौरान पता चला कि युवक का नाम कबीर शर्मा नहीं, बल्कि इमरान भाटी है.

  • Share this:
राजस्थान के सीकर में लव जिहाद का मामला सामने आया है. यहां तीन बच्चों के पिता इमरान ने कबीर शर्मा बनकर युवती को प्रेम जाल में फंसाया और शादी कर ली. उसने अपना फर्जी नाम, जाति और धर्म बदलने के साथ पूरे परिवार का फर्जी कुनबा तैयार किया और फिर युवती के साथ विवाह रचाया. तीन महीने तक किसी को भनक तक नहीं लगी कि युवक समुदाय विशेष से है. बाद में युवती के गायब होने पर उसके परिजनों ने खोजबीन शुरू की तो उनके पैरों तले से जमीन खिसक गई.

युवती के पिता ने थाने पहुंचकर जब पूरी घटना बताई तो पुलिस अधिकारी भी हैरान रह गए. पुलिस अधीक्षक डॉक्टर अमन दीप सिंह कपूर ने मला दर्ज कर आरोपी युवक व युवती की तलाश में विशेष टीम को लगाया है, लेकिन अभी तक उनका कोई पता नहीं चल पाया है.

लोगों ने कहा- यह तो इमरान भाटी है

युवती के घर से गायब होने के बाद उसके पिता ने कबीर से संपर्क करने की कोशिश की. जिसके लिए युवती के पिता ने शादी के दौरान मोबाइल में खींची गई फोटो परिचितों को दिखाई. इस दौरान पता चला कि युवक का नाम कबीर शर्मा नहीं, बल्कि इमरान भाटी है. शहर के वार्ड 28 अंजूमन स्कूल के पास रहने वाला इमरान पहले एक मोटर कंपनी में काम करता था. इमरान पहले से शादीशुदा है. उसकी पत्नी और तीन बच्चे घर पर ही रहते हैं.

11 लाख नगद और 5 लाख के जेवर दहेज में दिए

लड़की के पिता के मुताबिक इकलौती बेटी होने के कारण उन्होंने दिल खोलकर दहेज दिया. शादी में 11 लाख रुपए नगद, पांच लाख के जेवरात, कपड़े, डेढ़ लाख रुपए रिसोर्ट का किराया, एक लाख 70 हजार रुपए खाने पर खर्च किया. वहीं, कैटरिंग का अलग से भुगतान करने के बाद वह वापस सीकर आ गए.

हर कोई ब्राह्मण बनकर आया
Loading...

शादी से पहले दोनों परिवारों ने जयपुर में एक सगाई की रस्म अदा की थी. जिसमें युवक और उसके फर्जी माता-पिता व रिश्तेदार बने लोगों ने खुद को ब्राह्मण बताया और अपने-अपने गोत्र भी बताए. लोगों की बात से संतुष्ट लड़की के पिता ने दोनों की शादी 13 मई को तय की. युवक ने युवती के पिता को जयपुर बुलाया और लोहामंडी स्थित मातेश्वरी रिसोर्ट बुक करवा. इसके बाद तय तारीख पर युवती के परिजन शादी करने के लिए जयपुर पहुंच गए. शादी में आने वाले सभी लोग ब्राह्मण समाज के बनकर आए थे. सबने तिलक लगा रखे थे और हिन्दू रीति रिवाज में पूरी रस्म निभाई.

ये भी पढे़ं-अमित शाह के ‘मोदी कैबिनेट’ में शामिल होने के बाद अगले BJP अध्यक्ष हो सकते हैं जेपी नड्डा

शादी के 6 दिन बाद मांगे 5 लाख

शादी के छह दिन युवती को इमरान ने वापस सीकर भेज दिया गया. इस बीच इमरान खुद युवती के घर पहुंचा और पत्नी के पिता से पांच लाख रुपए की जरूरत बताई. इसके बाद वह वापस जयपुर जाने की बात कहकर चला गया. युवक के लगातार दबाव के चलते पिता ने अपने परिचित से ढाई लाख रुपए उधार लिए. इसके बाद युवती 17 मई की रात घर से गायब हो गई. घर में रखे ढाई लाख रुपए, उसकी मां के लाखों के जेवरात भी गायब थे.

ये भी पढ़ें-अलवर गैंगरेप: पुलिस जांच पर बड़ा सवाल, रेप का एक आरोपी निकला नाबालिग

पुलिस की पकड़ से दूर

पुलिस के लिए यह मामला बड़ी पहेली बन गया है. मामला संज्ञान में आने के तीन दिन बाद भी पुलिस अभी तक कबीर बने इमरान व उसके फर्जी परिवार, रिश्तेदारों तक नहीं पहुंच पाई है. इसकी वजह है कि आरोपियों ने बहुत ही चालाकी से पूरे फर्जीवाड़े को अंजाम दिया. यहां तक की शादी के लिए वीडियो और फोटोग्राफर भी जालसाजों ने खुद ही तय किए थे. हालांकि, मोबाइल से खींचे गए कुछ फोटो युवती के परिवार के पास है. उनमें साफ दिख रहा है कि शादी की रस्में हिन्दू रीति रिवाज से निभाई गई हैं.

ये भी पढ़ें-नशीली चाय पिलाकर लड़की ने युवक के साथ बनाए संबंध, ब्लैकमेलिंग से परेशान युवक ने उठाया ये कदम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 31, 2019, 8:27 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...