Home /News /rajasthan /

Rajasthan: शहीद भगवानाराम की शहादत को सलाम करने 11 KM लंबी निकाली तिरंगा रैली, उमड़ा जनसैलाब

Rajasthan: शहीद भगवानाराम की शहादत को सलाम करने 11 KM लंबी निकाली तिरंगा रैली, उमड़ा जनसैलाब

शहीद के पिता जगदीश नेहरा ने कहा कि उन्हें गर्व है कि बेटे ने देश के लिए शहादत दी है.

शहीद के पिता जगदीश नेहरा ने कहा कि उन्हें गर्व है कि बेटे ने देश के लिए शहादत दी है.

Salute to Martyrdom: देश सेवा के लिये अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले राजस्थान के शेखावाटी इलाके के सीकर जिले के सपूत हवलदार भगवानाराम नेहरा को अंतिम विदाई देने से पहले शहीद के सम्मान में ग्रामीणों ने 11 किलोमीटर लंबी तिरंगा यात्रा निकाली. इस यात्रा में हजारों लोगों का जनसैलाब उमड़ा. शहीद को मुखाग्नि उसके एकलौते पांच वर्षीय बेटे ने दी.

अधिक पढ़ें ...

    संदीप हुड्डा.

    सीकर. जम्मू कश्मीर में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद (Martyr) हुए सीकर के लाल भगवानाराम नेहरा (Hawaldar Bhagwanram Nehra) की पार्थिव देह पंचतत्व में विलीन कर दी गई है. शहीद का उनके पैतृक गांव दुगोली में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया. 5 साल के बेटे हर्षित ने जब शहीद पिता को मुखाग्नि दी तो वहां मौजूद हजारों लोगों की आंखें नम हो गई. शहीद के अंतिम संस्कार से पहले 11 किलोमीटर तक तिरंगा रैली निकाली गई. इस रैली में हजारों लोग शहीद को श्रद्धाजंलि देने के लिये जुटे.

    सीकर के दुगोली गांव के रहने वाले भगवानाराम नेहरा (35) पांच दिन पहले जम्मू कश्मीर में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हो गए थे. वे 5 जाट रेजीमेंट में हवलदार के पद पर तैनात थे. सोमवार रात को ही उनकी पार्थिव देह सीकर लाया गया. उसके बाद मंगलवार को सुबह सीकर से दुगोली तक करीब 11 किलोमीटर तिरंगा रैली निकाली गई. इस दौरान भारत माता की जयकारों से आसमान गुंजायमन हो उठा. जिले के कोने कोने से हजारों लोग इस तिरंगा रैली में शामिल होने के लिये पहुंचे.

    CDS Bipin Rawat Helicopter Crash: राजस्थान के वीर सपूत पायलट कुलदीप राव भी हुये शहीद

    रैली में गूंजते रहे देशभक्ति के तराने
    रैली में देशभक्ति के तराने गूंजते रहे. रैली में सैकड़ों युवा जहां बाइक लेकर पहुंचे तो बड़ी संख्या में किसान ट्रैक्टरों से आये. सीकर से दोपहर में शहीद की पार्थिव देह उनके पैतृक घर लाई गई. वहां पार्थिव देह अंतिम दर्शनार्थ रखी गई. यहां पर परिवार की महिलाओं का रो-रोकर बुरा हाल था. घर पर धार्मिक प्रक्रियायें पूरी करने के बाद उनकी अंतिम यात्रा शुरू हुई.

    तीन पीढ़ियों से सेना में सेवा दे रहा है परिवार
    शहीद के पिता जगदीश नेहरा ने कहा कि उन्हें बेटे के जाने का दुख तो है लेकिन गर्व भी है कि वह देश के लिए शहीद हुआ है. उन्होंने कहा कि उनकी तीसरी पीढ़ी है जो सेना में थी. इससे पहले उनके बड़े भाई भी शहीद हो चुके हैं. उनके पिता भी सेना में थे. उन्होंने कहा कि मैं अपने पोते को भी देश सेवा के लिए भेजूंगा.

    सेना के जवानों ने दिया गार्ड ऑफ ऑनर
    गांव के मोक्षधाम में पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप और 5 जाट रेजीमेंट के कर्नल सहित विभिन्न अधिकारियों ने शहीद को श्रद्धांजलि अर्पित की. सेना के जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया. इसके बाद शहीद के बेटे ने उनको मुखाग्नि दी. शहीद को श्रद्धांजलि देने बड़ी संख्या में लोग पहुंचे लेकिन जिले का कोई बड़ा जनप्रतिनिधि यहां नहीं आया.

    Tags: Indian Army news, Rajasthan latest news, Rajasthan news in hindi, Rajasthan News Update

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर