बहनों ने शहीद भाइयों की प्रतिमा पर राखी बांधकर मनाया रक्षाबंधन का पर्व

15 अगस्त के अवसर पर जहां देश शहीदों को याद करते हुए अपनी स्वतंत्रता का जश्न बना रहा है, तो वहीं आज रक्षाबंधन के पर्व पर बहनें भी अपने शहीद भाइयों की प्रतिमाओं की कलाई पर राखी बांधकर रक्षाबंधन का पर्व मना रही हैं.

Ashok sharma | News18 Rajasthan
Updated: August 15, 2019, 3:12 PM IST
बहनों ने शहीद भाइयों की प्रतिमा पर राखी बांधकर मनाया रक्षाबंधन का पर्व
बहनों ने शहीद भाइयों की प्रतिमा की कलाई पर बांधी राखी
Ashok sharma | News18 Rajasthan
Updated: August 15, 2019, 3:12 PM IST
आज 15 अगस्त के अवसर पर जहां देश शहीदों को याद करते हुए अपनी स्वतंत्रता का जश्न बना रहा है वहीं साथ ही रक्षाबंधन का पावन पर्व होने पर उन बहनों की आंखों में गर्व के साथ आंसू जरूर हैं, जिनके भाई इस देश की रक्षा करते हुए शहीद हो गए हैं रक्षाबंधन के इस पावन पर्व पर शहीदों के बहनें भी अपने शहीद भाइयों की प्रतिमाओं की कलाई पर राखी बांधकर अपना फर्ज निभा रही हैं.

शहीदों की प्रतिमा पर बहनों ने बांधी राखी

सीकर जिले के कुडली के रहने वाले शहीद मनोज ओला कारगिल में शहीद हो गए थे. शहीद मनोज की बहनें रक्षाबंधन के पावन पर्व पर आज भी अपने भाई की कलाई पर राखी बांधती हैं और शहीद की प्रतिमा से लिपट कर अपना फर्ज निभा रही है. भले ही आज उनके भाई इस दुनिया में नहीं है लेकिन हर रक्षाबंधन पर वे शहीद की प्रतिमा पर आकर उसे राखी बांधना नहीं भूलती हैं.बहनों ने भाइयों की प्रतिमा पर राखी बांधकर मनाया रक्षाबंधन का पर्व

शेखावाटी ने देश को दिए सबसे ज्यादा सैनिक

शेखावाटी ने पूरे देश में सबसे ज्यादा जहां सैनिक दिए हैं तो वही सबसे ज्यादा शहीद देने का गौरव भी शेखावाटी को ही मिला है. शेखावाटी का ऐसा कोई भी गांव नहीं है, जहां पर कोई शहीद की प्रतिमा नहीं हो. रक्षाबंधन के पावन पर्व पर बहनें अपने घरों से आकर इन शहीद प्रतिमाओं पर राखी बांधकर उनसे अपना आशीर्वाद लेती है.



रक्षाबंधन पर शहीदों की याद में बहनों की आखें हुईं नम
Loading...

भाईयों को याद कर बहनों की आंख हुई नम
भाईयों को याद कर बहनों की आंख हुई नम


यह शेखावाटी की शहादत का ही जज्बा है इन शहीदों को अब लोक देवताओं का दर्जा प्राप्त हो गया है शहीद की बहनें ही नहीं बल्कि गांव की अन्य बहन ने भी इन शहीद प्रतिमाओं पर राखी बांधकर रक्षाबंधन का पर्व मना रही है, ऐसा ही नजारा लोसल के हरिपुरा गांव के शहीद श्योदानाराम की शहीद  प्रतिमा पर भी देखने को मिला, जहां गांव की बहनों ने जब रक्षाबंधन के पर्व पर अपने शहीद भाई की प्रतिमा पर राखी बांधी तो सबकी आंखें नम हो गयीं.

यह भी पढ़ें- रक्षाबंधन को लेकर बाजार में खासी रौनक, तिरंगे वाली राखियों की डिमांड ज्यादा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सीकर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 15, 2019, 10:46 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...