दिल्ली हिंसा: रतन लाल को शहीद का दर्जा देने की मांग, दिल्ली सरकार देगी 1 करोड़ रुपए!

सोमवार को उत्तर-पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा में दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की मौत हो गई थी (फाइल फोटो)

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के हेड कांस्टेबल रतन लाल (Ratan Lal) के पैतृक गांव में उनको शहीद का दर्जा और परिजनों को मुआवजा देने की मांग उठी है.

  • Share this:
    सीकर. दिल्ली में हुई हिंसा का शिकार हुए दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के हेड कांस्टेबल रतन लाल को शहीद का दर्जा और परिजनों को मुआवजा देने की मांग उठ रही है. रतन लाल के पैतृक गांव राजस्‍थान के सीकर के तिहावली में उनकी मौत की सूचना पर उमड़े ग्रामीणों ने उन्‍हें शहीद का दर्जा देने के साथ ही अन्य मांगें भी रखी हैं. बता दें कि दिल्ली सरकार ने शहीद के परिजनों को 1 करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा कर रखी है. ऐसे में यदि रतन लाल को शहीद का दर्जा दिया जाता है तो उनके परिजनों को दिल्‍ली सरकार की ओर से एक करोड़ रुपये का मुआवजा भी मिलेगा. हालांकि, दिल्‍ली पुलिस के दिवंगत जवान के परिजनों और ग्रामीणों को उम्मीद है कि देश सेवा में शहादत देने वाले उनके सपूत को शहीद का दर्जा के साथ मुआवजा भी मिलेगा.

    दिल्ली में एसीपी (गोकुलपुरी) ऑफिस में ऑपरेटर के रूप में तैनात रतन लाल की मौत के बाद उनकी पत्नी बेसुध हालत में हैं. रतन लाल नौ वर्ष का एक बेटा और दो बेटियों भी हैं. तीनों बच्चे अभी पढ़ाई कर रहे हैं. परिवार के मुखिया की इस तरह मौत के बाद परिजनों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है. वहीं, हेड कांस्टेबल रतन लाल के परिजन और मित्र उनकी मौत की खबर के बाद दिल्ली पहुंच रहे हैं.

    स्कूल में स्टेडियम के नामकरण की मांग
    रतन लाल दिल्ली पुलिस में नौकरी कर रहे थे तो उनकी मां संतरा देवी और भाई दिनेश गांव में ही परिवार के साथ रह रहे थे. इस शहादत को अमर करने के लिए ग्रामीणों ने गांव के स्कूल में स्थित स्टेडियम का नामकरण रतन लाल के नाम पर करने की मांग की है.



    दिल्ली सरकार शहीद के परिवार को देती है 1 करोड़ रुपए
    दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार के अनुसार, हर उस जवान के परिवार को ₹1 करोड़ की सम्मान राशि देती है, जो अपने देश की सेवा में सर्वोच्‍च बलिदान देते हैं.

    ये भी पढ़ें-

    दिल्ली की हिंसा में राजस्थान के सीकर निवासी हैड कांस्टेबल रतन लाल की मौत

    आज जयपुर में वर्ल्ड फ्लोरल शो, फूड बाजार और बैडमिंटन टूर्नामेंट और बहुत कुछ

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.