Assembly Banner 2021

आज सीकर जिला जाम, माकपा और पुलिस-प्रशासन आमने-सामने, धारा-144 लगाई

माकपा के बंद की घोषणा के बाद प्रदर्शनकारी सुबह से ही सक्रिय हो गए. इसका व्यापक असर बाजार पर भी दिखाई दे रहा है. सीकर में सुबह से ही व्यापारिक प्रतिष्ठान नहीं खुले हैं.फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

माकपा के बंद की घोषणा के बाद प्रदर्शनकारी सुबह से ही सक्रिय हो गए. इसका व्यापक असर बाजार पर भी दिखाई दे रहा है. सीकर में सुबह से ही व्यापारिक प्रतिष्ठान नहीं खुले हैं.फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

सीकर (Sikar) एसएफआई (SFI) के कार्यकर्ताओं पर हुए लाठीचार्ज (Lathicharge) के विरोध में माकपा (CPI-M) ने सोमवार को सीकर जिले में चक्का जाम का आह्वान किया है. जाम की घोषणा को देखते हुए जिला प्रशासन (District administration) सीकर सहित कई इलाकों में धारा-144 (Section -144) लगा दी है.

  • Share this:
सीकर.  जिला मुख्यालय पर छात्रसंघ चुनाव (Student union election) के दौरान गत 28 अगस्त को एसएफआई (SFI) के कार्यकर्ताओं पर हुए लाठीचार्ज (Lathicharge) के विरोध में माकपा (CPI-M) ने सोमवार को सीकर जिले में चक्का जाम का आह्वान किया है. जाम की घोषणा को देखते हुए जिला प्रशासन (District administration) सीकर सहित कई इलाकों में धारा-144 (Section -144) लगा दी है. इसके साथ ही एहतियातन कई रास्तों पर यातायात डाइवर्ट (Traffic divert) कर दिया है. प्रदर्शनकारियों द्वारा करीब 150 स्थानों पर जाम लगाए जाने की संभावना है. प्रदर्शनकारियों ने जयपुर-बीकानेर राजमार्ग (Jaipur-Bikaner Highway) पर नानी बाईपास पर जाम लगा दिया है.

150 स्थानों पर जाम लगाए जाने की संभावना
माकपा के बंद की घोषणा के बाद प्रदर्शनकारी सुबह से ही सक्रिय हो गए. इसका व्यापक असर बाजार पर भी दिखाई दे रहा है. सीकर में सुबह से ही व्यापारिक प्रतिष्ठान नहीं खुले हैं. माकपा के पूर्व विधायक अमराराम समर्थकों के साथ बाजारों में घूम रहे हैं. वे व्यापारियों से बाजार बंद करने की अपील कर रहे हैं. प्रदर्शनकारियों द्वारा करीब 150 स्थानों पर जाम लगाए जाने की संभावना के कारण प्रशासन ने कई मुख्य मार्गों से यातायात को डाइवर्ट कर दिया है. एम्बुलेंस और पेट्रोल पम्प जैसी आवश्यक सेवाओं को जाम से अलग रखा गया है.

जाम से सर्वाधिक प्रभावित जयपुर-बीकानेर राजमार्ग होगा
जाम की घोषणा के बाद जिलेभर में जगह-जगह पुलिस जाब्ता तैनात किया गया है. चक्का जाम के कारण दिन में सीकर के रास्ते होकर यात्रा करने वाले लोगों की परेशानियां बढ़ सकती है. बंद से पूरा जयपुर-बीकानेर राजमार्ग प्रभावित होगा. एकादशी को खाटूश्यामजी आने वाले श्रद्धालुओं को भी परेशानियां हो सकती है. पुलिस व प्रशासन के अधिकारी प्रत्येक गतिविधि पर नजर रखे हुए हैं. माकपा ने इस मामले में पुलिस अधीक्षक गगनदीप सिंगला और पुलिस उपाधीक्षक सौरभ तिवाड़ी को निशाने पर ले रखा है. माकपा और एसएफआई ने दोनों अधिकारियों को बर्खास्त करने की मांग कर रखी है.



शनिवार रात को सीकर में निकाला था मशाल जुलूस
इससे पहले शनिवार रात को माकपा और एसएफआई कार्यकर्ताओं ने सीकर जिला मुख्यालय पर मशाल जुलुस निकाला था. उसके बाद माकपा के पूर्व विधायक अमराराम ने प्रशासन को चेतावनी देते हुए सोमवार को सीकर जिले में पूर्ण चक्का जाम की घोषणा की थी. अमराराम ने कहा यह तो ट्रेलर है, पूरी फिल्म अभी बाकी है.

लाठीचार्ज मामले ने पकड़ा तूल, माकपा ने की कल सीकर जिला जाम करने की घोषणा

पुलिस ने श्मशान घाट में चिता से उठाया महिला का शव, यहां जानिए- पूरा मामला
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज