होम /न्यूज /राजस्थान /

Rajasthan: सीमा जाखड़ के बाद तस्करों को भगाने वाले पुलिसकर्मियों की तलाश तेज, 10 लाख में हुई थी डील

Rajasthan: सीमा जाखड़ के बाद तस्करों को भगाने वाले पुलिसकर्मियों की तलाश तेज, 10 लाख में हुई थी डील

Rajasthan News: बरलोट घूसकांड मामले में सीमा जाखड़ की गिरफ्तारी के बाद आरोपी पुलिसकर्मियों की तलाश शुरू हो गई है.

Rajasthan News: बरलोट घूसकांड मामले में सीमा जाखड़ की गिरफ्तारी के बाद आरोपी पुलिसकर्मियों की तलाश शुरू हो गई है.

Seema Jakhar Arrest: पैसे लेकर तस्करों को भगाने के मामले में सिरोही (Sirohi News) के बरलूट थाने की बर्खास्त एसएचओ सीमा जाखड़ (Seema Jakhar 10 lakh bribe case) की गिरफ्तारी के बाद अब बाकि आरोपी पुलिसकर्मियों की तलाश की जा रही है. हालांकि सीमा की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने मीडिया के सामने किसी भी तरह का बयान नहीं दिया है. इसके बाद अब पुलिस की कार्रवाई पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

PRATIK KUMAR

सिरोही. राजस्थान के सिरोही में तस्करों से पैसे लेकर उनको भगाने वाली सीमा जाखड़ अब पुलिस की हिरासत में है. सोमवार को सीमा जाखड़ को कोर्ट में पेश किया गया. इसके बाद कोर्ट ने सीमा जाखड़ को जेल भेजने के आदेश दे दिए. आपको बता दें कि सीमा जाखड़ की गिरफ़्तारी के बाद आरोपी पुलिस कर्मियों की गिरफ्तारी का इंतजार किया जा रहा है. लेकिन सबसे बड़ी बात तो सिरोही पुलिस पर आ रही है क्योंकि सीमा जाखड़ को जेल में भेजने के बाद भी पुलिस मीडिया के सामने किसी भी प्रकार का बयान देने से कतरा रही है.अब पुलिस की कार्रवाई  पर भी सवाल उठ रहे हैं. वहीं सरकारी अधिवक्ता दिनेश का कहना है कि सिरोही पुलिस ने आरोपी सीमा की जेल अभिरक्षा में भेजने का प्रार्थनापत्र दिया था. इस पर कोर्ट प्रार्थनापत्र कोर्ट ने मंजूर कर के सीमा को जेल भेज दिया है.

बरलूट थाने के इस कांड में पहले ही रमेश, हेमाराम और शंकरलाल को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भिजवाया जा चुका है. सिरोही में बरलूट थाने के बर्खास्त कांस्टेबल ओमप्रकाश, सुरेश कुमार और हनुमानाराम की गिरफ्तारी अभी बाकी है.  वहीं 10 लाख  रुपए के लेन-देन के बदले मौके से भगाए गए तस्करी के आरोपी केरिया हालीवाव निवासी दिनेश कुमार खींचड़ भी अभी तक पकड़ में नहीं आया है. उसकी भी तलाश की जा रही है.

जानें क्या है पूरा मामला
घटना साल 2021 की है. 14 नवंबर की रात बतौर बरलूट थानाधिकारी सीमा जाखड़ ने गुजरात नंबर की लग्जरी कार में डोडा पोस्त पकड़ा था, लेकिन थाने में 15 नंबर सुबह करीब 5 बचे की कार्रवाई दिखाई गई थी.  पुलिस रिपोर्ट में सुबह 5.50 बजे कार के आने और नाकाबंदी तोड़कर भागने और पीछा कर डोडा पोस्त से भरी कार पकड़़ना व तस्करों के फरार होना का जिक्र किया गया था. जबकि जांच में सामने आया था कि पुलिस ने जावाल नदी में नाकाबंदी से फरार तस्करों की कार पीछा कर पकड़ी थी.

ये भी पढ़ें:  Rajasthan: बर्खास्त SHO सीमा जाखड़ की ‘बेगुनाही’ की खुली पोल, सामने आया तस्करों को भगाने का VIDEO

तस्करी के आरोपी दिनेश खींचड़ को पुलिस ने रेस्टोरेंट-ढाबा के पास से पकड़ लिया था. बाद में उसे जावाल-बरलूट नदी के पुल पर नाकाबंदी में निजी बस रोककर बैठा कर भगा दिया था. निजी बस में बिठाने का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया था, इन्हें भगाने में लाखों रुपए के लेन-देन की आशंका जताई गई थी. आइजी ने सीमा जाखड़ और तीनों कांस्टेबल को एसपी ने 26 नवम्बर को बर्खास्त किया था.

Tags: Bribe, Rajasthan news, Sirohi news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर