लाइव टीवी

धर्म के नाम पर आतंकवाद फैलाने वाले शांति के पक्षधर नहीं-उपराष्ट्रपति नायडू

News18 Rajasthan
Updated: September 28, 2019, 5:35 PM IST
धर्म के नाम पर आतंकवाद फैलाने वाले शांति के पक्षधर नहीं-उपराष्ट्रपति नायडू
उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू ने कहा कि भारत हमेशा से सर्वे भवन्तु सुखिनः के विचारों वाला रहा है. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू (Vice President Vaikenya Naidu) ने कहा कि जो देश धर्म के नाम पर आतंकवाद (Terrorism) फैलाने की कोशिश करते हैं वो असल में धर्म विरोधी (Anti religious) हैं. आतंकवाद मानव का दुश्मन (Human enemy) है और उसे रोकने के लिए विश्व (world) को प्रयास करने चाहिए.

  • Share this:
सिरोही. उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू (Vice President Vaikenya Naidu) ने कहा कि जो देश धर्म के नाम पर आतंकवाद (Terrorism)  फैलाने की कोशिश करते हैं जो असल में धर्म विरोधी (Anti religious) हैं. आतंकवाद मानव का दुश्मन (Human enemy)  है और उसे रोकने के लिए विश्व (world) को प्रयास करने चाहिए. धर्म के नाम पर आतंकवाद फैलाने वाले शांति के पक्षधर नहीं हैं. उपराष्ट्रपति नायडू शनिवार को राजस्थान (Rajasthan) के दौरे पर रहे. इस दौरान उपराष्ट्रपति ने सिरोही जिले के आबूरोड स्थित ब्रह्माकुमारीज संस्थान (Brahma Kumaris Institute)में वैश्विक शिखर सम्मेलन-2019 में शिरकत की.

भारत हमेशा से सर्वे भवन्तु सुखिनः का पक्षधर
उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू ने सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए कि कहा कि आज यूएन में दो देशों के की स्पीच में कितना फर्क था. उन्होंने पाकिस्तान का नाम लिए बिना कहा कि एक देश विश्व में शांति और एकता की बात कर रहा है और वसुधैव कुटुंबकम में विश्वास रखता है. वहीं एक देश रक्तपात, हिंसा और नफरत फैलाने की बात करता है. ऐसे नफरत और हिंसा फैलाने वाले देश को अलग थलग करने की जरूरत है. भारत ने कभी किसी पर आक्रमण या हमला नहीं किया. भारत हमेशा से सर्वे भवन्तु सुखिनः के विचारों वाला रहा है.

ब्रह्माकुमारीज संस्था के कार्य सराहनीय

उपराष्ट्रपति ने कहा कि ब्रह्माकुमारीज संस्था की ओर से आध्यत्मिकता के जरिए जिस पर प्रकार से शांति के लिए प्रयास किए जा रहे हैं वह सराहनीय हैं. उन्होंने संस्था के द्वारा किए गए कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि संस्था सरकार द्वारा चलाए जा रहे कई अभियानों को बढ़ाने में बहुत सार्थक कदम उठा रही है. संस्थान ने स्वच्छ भारत अभियान, बेटी बचाओ और जल सवंर्धन सहित अनेक कार्यों में रचनात्मक रूप से अपनी भूमिका निभाई है. सम्मेलन के दौरान राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र, केन्द्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल और संस्था की मुख्य प्रशासिका दादी जानकी सहित कई लोग मौजूद रहे.

 (रिपोर्ट: कपिल श्रीमाली एवं शरद टाक)

कोटा में फिर बारिश, 48 साल का रिकॉर्ड टूटा, अब तक 1505 MM बरसातMP किरोड़ीलाल मीणा और MLA नरपतसिंह राजवी को खाली करने होंगे बंगले

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सिरोही से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 28, 2019, 5:14 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर