Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    श्रीगंगानगर में शवों की अदला-बदली, Corona पॉजिटिव महिला के परिजनों को दी दूसरे की लाश, हंगामा

    दोनों मृतक महिलाओं के परिजनों ने अस्पताल प्रशासन की इस लापरवाही पर उसके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.
    दोनों मृतक महिलाओं के परिजनों ने अस्पताल प्रशासन की इस लापरवाही पर उसके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

    COVID-19: श्रीगंगानगर के जिला अस्पताल में दो महिलाओं के शवों की अदला-बदली (Interchange of dead bodies) की बड़ी लापरवाही सामने आई है. इसमें एक महिला कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) थी. इस पर मृतक महिलाओं के परिजनों ने हंगामा कर दिया.

    • Share this:
    श्रीगंगानगर. जिला अस्पताल में गुरुवार को शवों की अदला-बदली (Interchange of dead bodies) हो जाने की बड़ी लापरवाही सामने आई है. यहां अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही (Negligence) से दो महिलाओं के शव आपस में बदल गए. खास बात यह है कि इनमें से एक मृतक महिला कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) थी. अस्पताल प्रशासन ने उसके परिजनों को दूसरी महिला का शव सौंप दिया. लेकिन जब दूसरी महिला परिजन शव लेने आए तब शवों को बदले जाने का पता चला. इस पर वहां हंगामा हो गया.

    जानकारी के अनुसार मामला गुरुवार को सुबह जिला मुख्यालय स्थित जिला अस्पताल में हुआ. यहां बुधवार को दो महिलाओं की मौत हो गई थी. इनमें एक महिला कोरोना पॉजिटिव थी. दूसरी महिला की मौत हार्ट अटैक से हुई बताई जा रही है. हालांकि उसके भी कोराना जांच के लिये सेम्पल लिये गये थे, लेकिन उसकी रिपोर्ट अभी तक नहीं आई है. गुरुवार को सुबह जब कोरोना पॉजिटिव महिला के परिजन शव लेने आए तो अस्पताल प्रशासन ने उनको महिला का शव सौंप दिया. कोरोना गाइडलाइन के अनुसार चूंकि शव पूरी तरह से पैक था, लिहाजा परिजनों ने उसे खोला नहीं और वे उसे लेकर चले गए.

    सटोरियों के खिलाफ राजस्थान में अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई, 4 करोड़ 19 लाख रुपए नगद बरामद, आज होगा खुलासा



    पैकिंग खोला तो दूसरी महिला का शव निकला
    उसके बाद जिस महिला की मौत हार्ट अटैक से हुई थी, उसके परिजन शव लेने आए. उन्हें भी जब शव सौंपा गया तो वह भी कोरोना गाइडलाइन के अनुसार पैक था. लेकिन उस महिला के परिजनों ने पैकिंग खोलकर देखा तो वह दूसरी महिला का शव था. इस पर उन्होंने अस्पताल प्रशासन को अवगत कराया. गफलत सामने आने पर महिला के परिजनों अस्पताल में हंगामा खड़ा दिया. इस पर अस्पताल प्रशासन ने कोरोना पॉजिटिव महिला के परिजनों से संपर्क साधा उनसे बॉडी पहचान करने को कहा.

    बीच रास्ते से शव वापस लेकर आए
    उन्होंने जब बॉडी खोलकर देखा तो पता चला कि वह उनके परिवार की महिला का शव नहीं है. इस पर वे बीच रास्ते से शव को वापस लेकर अस्पताल आए और उन लोगों ने भी वहां हंगामा करना शुरू कर दिया. बाद में अस्पताल प्रशासन ने जैसे-तैसे मामले को निपटाया. वहीं दोनों मृतक महिलाओं के परिजनों ने अस्पताल प्रशासन इस लापरवाही पर उसके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज