फर्जी तरीके से 172 कर्मचारियों को रिटायर करा टीचर ने किया 35 करोड़ का घोटाला

श्रीगंगानगर में एक फिजिकल एजुकेशन टीचर (पीटीआई) 35 करोड़ रुपयों का गबन कर फरार हो गया. पीटीआई ने फर्जी कर्मचारियों की फर्जी सेवानिवृत्ति दिखाकर इस घोटाले को अंजाम दिया.

Ashok Kumar Sharma | News18 Rajasthan
Updated: August 4, 2019, 11:14 AM IST
फर्जी तरीके से 172 कर्मचारियों को रिटायर करा टीचर ने किया 35 करोड़ का घोटाला
श्रीगंगानगर में शिक्षा विभाग में हुआ महाघोटाला। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
Ashok Kumar Sharma
Ashok Kumar Sharma | News18 Rajasthan
Updated: August 4, 2019, 11:14 AM IST
श्रीगंगानगर में एक फिजिकल एजुकेशन टीचर (पीटीआई) ने 35 करोड़ रुपए का गबन कर फरार हो गया है. पीटीआई ने फर्जी कर्मचारियों की फर्जी सेवानिवृत्ति दिखाकर इस घोटाले को अंजाम दिया. बताया जा रहा है कि पीटीआई के खिलाफ दर्ज हुए मामले की जांच के बाद गबन की राशि का यह प्रारंभिक आंकड़ा सामने आया है. जांच पूरी होने के बाद घोटाले की राशि में इजाफा होने के आशंका जताई जा रही है.

172 फर्जी कर्मचारियों की फर्जी सेवानिवृत्ति
जानकारी के अनुसार, आरोपी ओमप्रकाश शर्मा मूलतया श्रीगंगानगर में राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय नंबर-7 में पीटीआई के पद पर नियुक्त है. लेकिन, वह पिछले कई वर्षों से मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में डेपुटेशन (प्रतिनियुक्ति) पर बाबूगिरी का कार्य रहा है. ब्लॉक शिक्षा अधिकारी हंसराज ने बताया कि शारीरिक शिक्षक ओमप्रकाश शर्मा ने पिछले चार वर्षों में 172 फर्जी कर्मचारियों की फर्जी सेवानिवृत्ति दिखाकर उपार्जित अवकाश (अर्न्‍ड लीव या ईएल) के मद में अपने रिश्तेदारों और परिचितों के खाते में 35 करोड़ रुपए ट्रांसफर कर इस महाघोटाले को अंजाम दिया है.

पुरानी आबादी थाने में दर्ज हुआ गबन का मामला

इस संबंध में मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी ने पुरानी आबादी थाने में पीटीआई ओमप्रकाश शर्मा के खिलाफ छानबीन के दौरान अपने रिश्तेदारों और परिचितों के खाते में 35 करोड़ रुपये की राशि ट्रांसफर कर गबन करने का मामला दर्ज कराया है. इस फर्जीवाड़े की जांच शिक्षा विभाग की संयुक्त निदेशक देवलता चांदवानी की देखरेख में पिछले दो दिनों से लगातार चल रही है. इससे पहले शिक्षा निदेशालय, बीकानेर की लेखा विभाग की जांच टीम भी श्रीगंगानगर के सीबीईओ कार्यालय में डेरा जमाए हुए है.

जांच पूरी होने के बाद पता चलेगी गबन की वास्तविक राशि
सयुंक्त निदेशक देवलता चांदवानी ने बताया कि गबन की यह राशि और भी बढ़ सकती है. जांच पूरी होने के बाद ही गबन की वास्तविक राशि का पता चल पाएगा. मामला दर्ज होने के बाद से पीटीआई ओमप्रकाश शर्मा फरार हो गया. पुलिस उसकी तलाश में जुटी है. मामले में अन्य कर्मचारियों की मिलीभगत से भी इनकार नहीं किया जा रहा है.
Loading...

विधानसभा में फिर छाई गाय, कांग्रेस विधायकों ने कहा 'गौमाता'

जयपुर:2300 साल पुरानी तूतू की 'ममी' फिर क्यों है चर्चा में ?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए श्रीगंगानगर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 4, 2019, 10:43 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...