Rajasthan Weather Update: मौसम ने ली करवट, श्रीगंगानगर में तेज बारिश, चूरू में ओले और हनुमानगढ़ में आंधी

चूरू में तेज बारिश के सथ ओलावृष्टि हुई है. (सांकेतिक तस्वीर)

चूरू में तेज बारिश के सथ ओलावृष्टि हुई है. (सांकेतिक तस्वीर)

Rajasthan Weather Updates: राजस्थान में पश्चिमी विभोक्ष की सक्रियता के चलते शुक्रवार को श्रीगंगानगर में तेज बारिश (Rrain) तो हनुमानगढ़ में धूलभरी आंधियां चली हैं. चूरू में ओले गिरे हैं.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में पश्चिम विक्षोभ सक्रिय (Western disturbance active) होने के बाद शुक्रवार को कई इलाकों में मौसम ने करवट (Weather Changed ) बदली है. मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक पश्चिमी राजस्थान के कई इलाकों में हल्की से तेज बारिश (Rain) हुई है. धूलभरी आंधियां चलने से तापमान में गिरावट दर्ज की गई है.

भारत-पाकिस्तान बॉर्डर से सटे श्रीगंगानगर जिले के कई इलाकों में जोरदार बारिश हुई है. वहीं, इसके पास ही स्थित हनुमानगढ़ जिले में जोरदार धूलभरी आंधी (Storm) चलने के साथ हल्की बारिश हुई है. चूरू में भी मौसम बिगड़ गया है. वहां तेज बारिश के साथ ओले गिरे हैं. बीकानेर में भी आसमान में काले बादल छाए हुए हैं. वहां हल्की बारिश हुई है.

किसानों को सताने लगी चिंता

श्रीगंगानगर में शुक्रवार दोपहर में मौसम ने पलटा खाया. उसके बाद जिले के घड़साना और सूरतगढ़ इलाके में बारिश का दौर शुरू हो गया. उसके कुछ देर बाद श्रीगंगानगर में भी तेज बारिश शुरू हो गई. तेज बारिश से किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच गईं. इन दिनों एक तरफ जहां खेतों में गेहूं की कटी हुई फसल पड़ी है. वहीं, मंडियों में भी गेहूं रखा है. बारिश से किसानों को फसल के नुकसान चिंता सताने लगी है.
हनुमागढ़ में आंधी और बारिश, बीकानेर में बूंदाबांदी

श्रीगंगानगर से सटे हनुमानगढ़ जिले में भी दोपहर में मौसम का मिजाज बदल गया. अचानक धूलभरी आंधी के आने के बाद सूरज बादलों की ओट में छिप गया और हल्का अंधेरा छा गया. इसके साथ ही कई इलाकों में आंधी के बाद हल्की बरसात शुरू हो गई. बारिश के कारण मौसम में ठंडक घुल गई. बीकानेर में भी मौसम ने अंगड़ाई ली है. वहां भी आसमान में काले बादल छा गए. उसके बाद ठंडी हवाओं के साथ बूंदाबांदी शुरू हो गई. इससे लोगों को गर्मी से राहत मिली.

20-21 अप्रैल को एक और पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा



उल्लेखनीय है कि मौसम विभाग ने शुक्रवार को प्रदेश के कई इलाकों में मध्यम से तेज बारिश होने की संभावना जताई थी. इसके अलावा तेज अंधड़ का भी अंदेशा जताया गया था. मौसम विभाग के मुताबिक 18 और 19 अप्रैल तक इस पश्चिम विक्षोभ का असर समाप्त होगा. उसके बाद मौसम एक बार फिर गर्म और शुष्क हो सकता है. वहीं, 20-21 अप्रैल को एक और नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा. उससे फिर प्रदेश के कई इलाकों में हल्की बारिश होने की संभावना रहेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज