पहले शिक्षकों को मिला टिड्डी दलों की निगरानी का जिम्‍मा, अब राजस्‍थान सरकार ने दिया यह नया आदेश
Jaipur News in Hindi

पहले शिक्षकों को मिला टिड्डी दलों की निगरानी का जिम्‍मा, अब राजस्‍थान सरकार ने दिया यह नया आदेश

पिछले दिनों प्रशासनिक अधिकारियों ने शिक्षकों (Teachers) को अवैध बजरी का परिवहन रोकने, टिड्डी (Grasshopper) दलों  पर नियंत्रण, मनरेगा कार्य के निरीक्षण, शादी समारोह की निगरानी समेत कई कार्य सौंप दिए थे.

  • Share this:
 

जयपुर. राजस्‍थान (Rajasthan) में शिक्षकों (Teachers) को इन दिनों बड़े अजीबो गरीब काम सौपे जा रहे हैं. इनमें अवैध बजरी का परिवहन रोकने, टिड्डी दलों पर नियंत्रण, मनरेगा कार्य के निरीक्षण, शादी समारोह की निगरानी समेत कई कार्य शामिल है. अब राजस्‍थान के मुख्‍य सचिव डीबी गुप्‍ता (DB Gupta) का एक नया आदेश आया है.

हालांकि मुख्‍य सचिव (Chief Secretary) का यह आदेश शिक्षकों के लिए बड़ी राहत वाला है. इस आदेश के तहत, शिक्षकों को ड्यूटी अब गैर-शैक्षणिक कार्यों में नहीं लगाई जा सकेगी. हालांकि, इस आदेश में यह भी साफ कर दिया गया है कि कोविड-19 (COVID-19) के खिलाफ जारी जंग में शिक्षकों की भूमिका और ड्यूटी पूर्व की भांति जारी रहेगी.



उल्‍लेखनीय है कि बीते दिनों, शिक्षकों ने शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा से मांग की थी कि उनकी ड्यूटी गैर-शैक्षणिक कार्यों में न लगाई जाए. इस मांग पर संज्ञान लेते हुए शिक्षा मंत्री ने सूबे के मुख्‍य सचिव डीबी गुप्‍ता को इस बाबत निर्देश जारी करने को कहा था. शुक्रवार को मुख्य सचिव डी.बी.गुप्ता की तरफ से जारी आदेश में कहा गया है कि कोविड-19 महामारी के संबंध में जारी राजकीय निर्देश के अतिरिक्त अन्य गैर-शैक्षणिक कार्यों में शिक्षकों की ड्यूटी नहीं लगायी जाए.



उन्होंने इन आदेशों की कठोरता से पालना करने के भी निर्देश दिए हैं. उल्‍लेखनीय है कि पिछले दिनों प्रशासनिक अधिकारियों ने शिक्षकों को अवैध बजरी का परिवहन रोकने, टिड्डी दलों पर नियंत्रण, मनरेगा कार्य के निरीक्षण, शादी समारोह की निगरानी समेत कई कार्य सौंप दिए थे.

शिक्षक संगठनों ने खुलकर की आदेश की खिलाफत
सरकार के इस फैसले से आहत शिक्षकों के कई संगठनों ने खुलकर प्रशासनिक अधिकारियों के खिलाफ की थी. उन्होंने मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा से ऐसे बेतुके आदेश जारी करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही करने तक की मांग कर डाली थी.

चूंकि शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा पहले भी मुख्य सचिव से बात कर कई आदेशों को निरस्त कराया था, लिहाजा शिक्षकों ने एक बार फिर उनका दरवाजा खटखटाया. शिक्षा मंत्री से बातचीत के बाद शुक्रवार को मुख्य सचिव ने सभी जिला कलेक्टरों को आदेश जारी कर निर्देश दिए हैं कि वह शिक्षकों की गैर शैक्षणिक कार्यों में ड्यूटी ना लगाएं.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading