लाइव टीवी

टोंक में शोभायात्रा पर पथराव के बाद कर्फ्यू जारी, BJP ने दी आंदोलन की चेतावनी

News18 Rajasthan
Updated: October 9, 2019, 8:07 PM IST
टोंक में शोभायात्रा पर पथराव के बाद कर्फ्यू जारी, BJP ने दी आंदोलन की चेतावनी
भारतीय जनता पार्टी के जिला संगठन ने असामाजिक तत्वों की गिरफ्तारी की मांग की है.

टोंक (Tonk) जिले के मालपुरा (Malpura) कस्बे में दिनभर तनावपूर्ण शांति बनी रही. विजयादशमी (Dussehra 2019) के दिन रावण दहन से पहले भगवान राम (Lord Rama) की विजय शोभायात्रा (Religious Procession) पर पथराव (Stone pelting) के इस मामले को भारतीय जनता पार्टी (BJP) के जिला संगठन ने असामाजिक तत्वों की गिरफ्तारी की मांग की है.

  • Share this:
टोंक. विजयादशमी (Dussehra 2019) के दिन रावण दहन से पहले भगवान राम (Lord Rama) की विजय शोभायात्रा (Religious Procession) पर पथराव (Stone pelting) के बाद बुधवार को टोंक (Tonk) जिले के मालपुरा (Malpura) कस्बे में दिनभर तनावपूर्ण शांति बनी रही. अराजक तत्‍वों की इस हरकत के बाद सुबह 6 बजे से कर्फ्यू (Curfew ) लगाया दिया गया जिसके चलते आम जनजीवन खासा प्रभावित रहा. मोबाइल इंटरनेट सेवाएं भी पूरी तरह से बंद रखी गई. इस मामले को भारतीय जनता पार्टी (BJP) के जिला संगठन ने पूर्व नियोजित घटना बताते हुए कांग्रेस सरकार की तुष्टीकरण की नीति का परिणाम बताया है. जिला संगठन ने इस घटना का पूर्वानुमान होने के बाद भी लापरवाही बरतने वाले प्रशासनिक अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई के साथ ही पथराव करने वाले असामाजिक तत्वों की गिरफ्तारी की मांग की है.
बीजेपी ने दी आंदोलन की चेतावनी
बीजेपी के टोंक जिलाध्यक्ष गणेश माहुर ने बताया कि मालपुरा में कुछ लोग साम्प्रदायिक सौहार्द को नुकसान पहुंचाना चाहते हैं. ऐसे असामाजिक तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के लिए मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा है. कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते समय उनके साथ पूर्व विधायक और बीजेपी नेता अजीत मेहता भी थे. बीजेपी के जिला संगठन ने इस मामले में शीघ्र गिरफ्तारी नहीं होने पर बड़े आंदोलन की भी चेतावनी दी है.

Curfew, Malpura, Tonk BJP
मालपुरा कस्बे में दिनभर तनावपूर्ण शांति बनी रही.


जिस तरह की घटना थी उसका उपखंड प्रशासन को पूर्वानुमान था. वहां पहले भी तिरंगा यात्रा और कावड़ यात्रा के दौरान इस तरह की घटनाएं हो चुकी हैं. इसके बावजूद भी इस मामले को लेकर लापरवाही बरती गई. सीसीटीवी कैमरों को तोड़ा जाना गंभीर मामला था लेकिन उपखंड प्रशासन ने गंभीरता से लिया होता तो इस घटना को टाला जा सकता था. 
अजीत मेहता, पूर्व विधायक, टोंक

सुबह 4.30 बजे हुआ रावण का दहन
विजयादशमी को तय समय रात 8:30 बजे रावण का दहन नहीं हो सका. आठ घंटे बाद जिला प्रशासन और पुलिस ने नगर पालिका के कर्मचारियों की मदद से बुधवार सवेरे लगभग 4.30 बजे रावण का दहन संपन्न करवाया. इस दौरान लोगों का किसी तरह का विरोध न हो पाए, इसके मद्देनज़र पूरे दशहरा मैदान पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई. इसके बाद कलेक्टर केके शर्मा और एसपी आदर्श सिद्धू की मौजूदगी में पालिका कर्मचारियों द्वारा रावण का दहन किया गया.
Loading...

Curfew, Malpura, Tonk BJP
विजयादशमी के दिन रावण दहन से पहले भगवान राम की विजय शोभायात्रा पर पथराव हो गया था.


ये भी पढ़ें- 
Viral Video- बीजेपी विधायक की देवी के दरबार में अजब-गजब प्रार्थना
अजमेर दरगाह इलाके में विस्फोटक की सूचना निकली झूठी, 2 युवक गिरफ्तार

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए टोंक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 9, 2019, 6:52 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...