राजस्थान: टोंक में युवक को सरेराह पीट-पीटकर मार डाला

तीन दिन पहले शुक्रवार को भरतपुर जिला मुख्यालय पर कार में जाते हुये डॉक्टर दंपती को गोलियों से भून दिया गया था.

तीन दिन पहले शुक्रवार को भरतपुर जिला मुख्यालय पर कार में जाते हुये डॉक्टर दंपती को गोलियों से भून दिया गया था.

Fearless Criminal in Rajasthan: प्रदेश के टोंक जिले में एक युवक की सरेराह बेरहमी से पिटाई कर उसे मौत के घाट उतार दिया गया. नामजद मामला दर्ज होने के बावजूद अभी तक पुलिस आरोपियों को पकड़ नहीं पाई है.

  • Share this:

दौलत पारीक

टोंक. राजस्थान में अपराधियों (Criminals) के हौसले बुलंद हो रहे हैं. भरतपुर में तीन दिन पहले सरेराह डॉक्टर दंपति को गोली से उड़ाने का मामला अभी शांत हुआ भी नहीं था कि अब टोंक जिले में एक युवक की बदमाशों ने पीट-पीटकर हत्या (Murder) कर डाली. यह वारदात भी दिनदहाड़े सरेराह हुई है. इस संबंध में नामजद मामला दर्ज होने के बावजूद अभी तक पुलिस के हाथ खाली है. हत्या के कारणों का भी अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है.

हत्या की वारदात दूनी थाना इलाके में हुई. हत्या का शिकार जगदीश मीणा (35) रविवार को किसी काम से बडोली गांव गया था. आरोप है कि बड़ोली में मदनलाल मीणा, हंसराज और कन्हैयालाल मीणा ने उसे बीच राह में रोककर मारपीट कर लहूलुहान कर दिया. जगदीश के साथ मारपीट की सूचना मिलने पर परिजन मौके पर पहुंचे और एम्बुलेंस से उसे दूनी अस्पताल ले गए.. लेकिन जगदीश ने अस्पताल पहुंचने से पहले रास्ते में दम तोड़ दिया.

आरोपियों का अभी तक कोई सुराग नहीं
सूचना मिलने पर देवली वृताधिकारी दीपक मीणा और थानाप्रभारी नाहर सिंह मीणा पुलिस जाब्ते के साथ मौके पर पहुंचे. बाद में पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर उसे परिजनों को सुपुर्द कर दिया. मृतक जगदीश के भाई ने तीनों आरोपियों के खिलाफ हत्या का नामजद मामला दर्ज कराया है. पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है, लेकिन अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है.

दो दिन पहले भरतपुर में डॉक्टर दंपति की हत्या हुई थी

इसके पहले शुक्रवार को भरतपुर में कार में जाते डॉक्टर दंपति को गोलियों से भून दिया गया था. उ स वारदात से इलाके में खौफ फैल गया था. उससे पहले भरतपुर सांसद रंजीता कोली पर कुछ बदमाशों ने हमला कर दिया था. इन दोनों मामलों में भी पुलिस को कोई कामयाबी नहीं मिली है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज