वन माता की प्रतिमा तोड़ने के विरोध में हिंदू व मुस्लिम दोनों समुदाय के लोग धरने पर बैठे

Manoj Tiwari | News18 Rajasthan
Updated: September 11, 2019, 8:05 PM IST
वन माता की प्रतिमा तोड़ने के विरोध में हिंदू व मुस्लिम दोनों समुदाय के लोग धरने पर बैठे
देवली के एसडीएम अशोक कुमार त्यागी ने दिया समाज कटकों को ढूढ निकालने का भरोसा

टोंक जिले के राजमहल कस्बे में वन माता की प्रतिमा खंडित करने के विरोध में हिंदू व मुस्लिम दोनों समुदाय के लोग धरने पर बैठे हुए हैं.

  • Share this:
टोंक. जिले के राजमहल कस्बे में ऊंची पहाड़ी पर स्थित बेहद प्राचीन माने जाने वाले वन माता मंदिर में अज्ञात समाजकंटकों ने वन माता की प्रतिमा खंडित कर दी. इससे नाराज कस्बे के लोग धरना देकर आक्रोश जता रहे हैं.  ख़ास बात यह कि इस घटना के विरोध में हिंदू और मुस्लिम दोनों समुदाय के लोग एक साथ और एक ही जगह धरने पऱ बैठे हुए हैं और पुलिस व प्रशासन से समाजकंटकों का पता लगाने और उनकी गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं.

हिंदू-मुस्लिम दोनों समुदाय के लोग बैठे धरने पर


इधर मामले की गंभीरता को देखते हुए कस्बे में तीन थानों के ज़ाप्ते के अलावा देवली के उपखंड अधिकारी अशोक कुमार त्यागी, देवली के वृत्ताधिकारी नानगराम मीणा व उनियारा के वृत्ताधिकारी दिनेश राजौरा राजमहल कस्बे में कैंप किये हुए हैं. फिलहाल पुलिस नें कस्बे में लगे सीसीटीवी के फुटेज खंगाले जाने के अलावा फोरेंसिक लैब ( एफएसएल) टीम की मदद से मौक़े से आवश्यक नमूने एकत्रित किए हैं. यहां कोटा से पुलिस के खोजी कुत्तों भी पहुंचे हैं और उनके स्तर से भी अपने तरीके से इस करतूत को अंजाम देने वाले समाजकंटकों का पता लगाये जाने का प्रयास किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें-दौसा में मिलावटखोरों पर एडीएम कोर्ट ने लगाया डेढ़ लाख रुपए का जुर्माना

कुख्यात तस्कर ने चप्पल में छिपाई थी एक करोड़ की ब्राउन शुगर, हुआ गिरफ्तार

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए टोंक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 11, 2019, 8:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...