टोंक में पुलिस कांस्टेबल की चाकू से गोदकर हत्या, शरीर पर मिले नौ घाव

पुलिस लाइन में चालानी गार्ड था कांस्टेबल। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

पुलिस लाइन में चालानी गार्ड था कांस्टेबल। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

टोंक में शुक्रवार रात को एक पुलिस कांस्टेबल की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई. हत्या के कारणों का अभी खुलासा नहीं हो पाया है. इस मामले में चार लोगों पर हत्या का आरोप लगाया गया है. पुलिस ने तीन आरोपियों को हिरासत में ले लिया है.

  • Share this:
टोंक में शुक्रवार रात को एक पुलिस कांस्टेबल की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई. हत्या के कारणों का अभी खुलासा नहीं हो पाया है. इस मामले में चार लोगों पर हत्या का आरोप लगाया गया है. पुलिस ने तीन आरोपियों को हिरासत में ले लिया है. कांस्टेबल के शव का शनिवार को पोस्टमार्टम करवाया जाएगा.



पुलिस लाइन में चालानी गार्ड था कांस्टेबल

जानकारी के अनुसार वारदात शुक्रवार रात करीब आठ बजे हुई बताई जा रही है. हत्या का शिकार हुआ कांस्टेबल मुकेश चौधरी (25) टोंक जिले के मेहंदवास का रहने वाला था. वह जिला मुख्यालय पर पुलिस लाइन में चालानी गार्ड था. शुक्रवार को वह ड्यूटी के बाद अपने घर चला गया था. रात को उस पर कुछ हमलावारों ने चाकुओं से ताबड़तोड़ वार कर दिए और फरार हो गए. मुकेश को गंभीर हालत में सआदत अस्पताल लाया गया. वहां मुकेश ने रात करीब 10 बजे दम तोड़ दिया. मुकेश के शरीर पर चाकू के नौ घाव मिले हैं.



चार लोगों पर हत्या का आरोप
सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को मोर्चरी में रखवाया. वहां आज उसका पोस्टमार्टम करवाया जाएगा. मुकेश के परिजनों ने जमीनी विवाद को लेकर हत्या किए जाने का शक जताया है. इस संबंध में चार लोगों पर आरोप लगाए गए हैं. बताया जा रहा है कि पुलिस ने तत्परता बरतते हुए तीन लोगों को हिरासत में ले लिया है.





15 दिन के भीतर दूसरे पुलिसकर्मी की हत्या

प्रदेश में 15 दिन के भीतर यह दूसरे पुलिसकर्मी की हत्या की गई है. करीब दो सप्ताह पहले 13 जुलाई को राजसमंद में झगड़े के मामले की जांच करने गए भीम थाने के हेड कांस्टेबल अब्दुल गनी पर हमला कर उसकी हत्या कर दी गई थी.



 



हेड कांस्टेबल की पीट-पीटकर हत्‍या, सात आरोपियों की हुई पहचान 



सीरियल रेपिस्ट सिकंदर उर्फ जीवाणु पर तय हुए आरोप
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज