एसीएस वहां बैठे- बैठे ऑर्डर कर देते हैं, जनता को फेस हमें करना पड़ता है: कलेक्टर

टोंक के कलेक्टर आरसी ढेनवाल ने जिला परिषद की वैठक में कहा कि एसीएस वहां बैठे बैठे ऑर्डर कर देते हैं, जनता को फेस हमें करना पड़ता है.

Manoj Tiwari | News18 Rajasthan
Updated: September 14, 2019, 6:31 AM IST
एसीएस वहां बैठे- बैठे ऑर्डर कर देते हैं, जनता को फेस हमें करना पड़ता है: कलेक्टर
टोंक जिला परिषद की बैठक मेंं कलेक्टर ने कही ऐसी बात कि सभी खुश हो गए
Manoj Tiwari | News18 Rajasthan
Updated: September 14, 2019, 6:31 AM IST
टोंक. 'सरकारी आदेशों पर ध्यान मत दो, जो मैं कहता हूं वह सुनो. यदि कहीं ज़रूरत है और जनप्रतिनिधि (Public Representative) कहते हैं तो वहां डेपुटेशन (Deputation) कर दो..अगर कोई पूछेगा तो जवाब मैं दे दूंगा. एसीएस (ACS) वहां बैठे- बैठे ऑर्डर (order) कर देते हैं जनता को फेस हमें करना पड़ता है'. यह किसी और का नहीं बल्कि टोंक जिला के कलेक्टर (tonk collector) आरसी ढेनवाल  का बयान है. ख़ास बात यह कि यह बयान उन्होनें कहीं और नहीं बल्कि जिला परिषद की बैठक में सार्वजनिक तौर पर दिया है. कलेक्टर ने यह बयान जिस अंदाज़ में दिया उससे भले ही जिला परिषद सदस्यों की बांछें खिल गई हों लेकिन यह सवाल भी खड़ा हो गया कि जब कलेक्टर ही सरकारी आदेशों को नहीं मानेंगे तो फिर उसके आदेशों को कौन मानेगा? ग़ौरतलब है कि शुक्रवार को 6 माह के अंतराल के बाद जिला परिषद की बैठक आयोजित की गई थी. इसमें एक सदस्य के सवाल का जवाब देते हुए सीएमएचओ ने कहा था कि उनके विभाग में एक भी कर्मचारी प्रतिनियुक्ति पर नहीं है.

टोंक जिला कलेक्टर आरसी ढेनवाल


जिला प्रमुख ने किया कलेक्टर  के बयान का बचाव

कलेक्टर ने सीएमएचओ के जवाब पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा - जिला हमको चलाना होता है. ऐसे में यदि जनता को राहत देने या फिर व्यवस्था बनाए रखने के लिए डेपुटेशन करना पड़ता है तो उसे किया जाना चाहिए. बैठक की अध्यक्षता करने वाले जिला प्रमुख सत्यनारायण चौधरी ने कलेक्टर के बयान का बचाव करते हुए कहा कि यदि डेपुटेशन किए जाने से जनता को राहत मिलती है तो इसमें हर्ज़ ही क्या है.जिला परिषद की ये अंतिम बैठक थी.

ये भी पढ़ें- सरकारी स्कूलों में Students का अनुपस्थित रहना पड़ेगा महंगा, होगा ये परिणाम

राजस्थान में लॉन्च हुआ जन सूचना पोर्टल, देश का ऐसा पहला राज्य बना
CM गहलोत की नाराजगी के बावजूद सोनिया गांधी ने सचिन पायलट को मीटिंग में बुलाया

Loading...

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए टोंक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 14, 2019, 6:31 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...