लाइव टीवी

सचिन पायलट के खिलाफ BJP के ट्रंप कार्ड, कौन हैं यूनुस खान?
Tonk News in Hindi

News18Hindi
Updated: December 11, 2018, 6:04 AM IST
सचिन पायलट के खिलाफ BJP के ट्रंप कार्ड, कौन हैं यूनुस खान?
यूनुस खान.

बीजेपी ने विधानसभा चुनाव 2018 में एकमात्र मुस्लिम चेहरा यूनुस खान को टोंक विधानसभा क्षेत्र में सचिन पायलट के सामने चुनावी मैदान में उतारा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 11, 2018, 6:04 AM IST
  • Share this:
राजस्थान की वसुंधरा सरकार में नंबर दो की हैसियत रखने वाले कैबिनेट मंत्री यूनुस खान को टोंक विधानसभा क्षेत्र से चुनावी मैदान में उतारा गया. खान विधानसभा चुनाव 2018 में बीजेपी की तरफ से उतारे गए एकमात्र मुस्लिम उम्मीदवार हैं.

पिछले सात दिनों के दौरान बीजेपी की ओर से जारी चार सूचियाें में एक भी मुस्लिम को जगह नहीं दी गई. आखिर नामांकन के अंतिम दिन सोमवार को पांचवीं और अंतिम सूची में यूनुस खान को टिकट दिया गया. सात दिन की कशमकश के बाद यूनुस खान को टिकट तो मिला, लेकिन इसके पीछे वजह मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की जिद रही या सचिन पायलट के सामने किसी जिताऊ प्रत्याशी को मैदान में उतारने की बीजेपी की रणनीति, कहना मुश्किल है.

यहां देखें- BJP , कांग्रेस, आप और अन्य पार्टियों के उम्मीदवारों की सूची

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष और सीएम पद की उम्मीदवारी के प्रबल दावेदार सचिन पायलट को घेरने के लिए यूनुस खान को बीजेपी का ट्रंप कार्ड माना जा रहा है. यूनुस को टोंक के लिए पूर्व में घोषित उम्मीदवार अजीत सिंह मेहता को हटाकर मैदान में उतारा गया है. बीजेपी ने झालरापटन में वसुंधरा राजे के खिलाफ कांग्रेस की ओर से उतारे गए मानवेंद्र सिंह के जवाब में यह कदम उठाया है. हालांकि, बीजेपी के इस जिताऊ विधायक का टोंक से पायलट के सामने जीत कर आना आसान नहीं होगा, खासतौर पर तब जबकि मुस्लिम समाज के विभिन्न संगठन खुलेआम कांग्रेस को समर्थन की घोषणा कर चुके हैं.



ये भी पढ़ें- चुनावी समर में उतरी जाट घराने की वारिस यह दबंग युवती
अंतिम दिन तक तक नहीं मिला था टिकटनागौर जिले की डीडवाना सीट से दो बार बीजेपी के टिकट पर विधायक बनने वाले यूनुस खान यूं तो सरकार में नंबर दो कैबिनेट मंत्री माने जाते रहे हैं लेकिन वर्तमान चुनाव में उनका टिकट कटना लगभग तय माना जा रहा था. हालांकि, पार्टी सूत्रों के अनुसार पिछले सात दिनों में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने यूनुस खान की पैरवी करने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी, लेकिन फिर भी नामांकन के दिन तक आलाकमान से हरी झंडी नहीं मिल पाई. आखिर सोमवार सुबह पार्टी की पांचवीं सूची में यूनुस को टोंक से टिकट देने का ऐलान किया गया.

सिर्फ नाम के खास नहीं काम के भी थे यूनुस खान

वर्तमान सरकार में परिवहन मंत्री यूनुस खान सिर्फ नाम के वसुंधरा राजे के खास नहीं बल्कि सरकार के लिए मुसीबत में बड़े काम के भी साबित हुए है. डॉक्टर हड़ताल, कर्मचारी हड़ताल, आरक्षण आंदोलन, रोडवेज हड़ताल जैसे कई गंभीर मसलों को निपटाने में यूनुस खान की अहम भूमिका रही. यही कारण रहा था कि कैबिनेट में नंबर दो मंत्री सीएम के भी खास बने थे.

ये भी पढ़ें- BJP की पहली लिस्ट से मुस्लिम गायबः एक विधायक का टिकट कटा, मंत्री का पता नहीं!

कौन हैं यूनुस खान?

नाम- यूनुस खान
पिता- ताजू खान
जन्मतिथि- 1 अगस्त 1964
जन्म स्थान- गनेड़ी, सीकर
विवाह- 15 अगस्त 1981
पत्नी- रोशनी बानो
संतान- दो बेटे, एक बेटी
शिक्षा- एम.कॉम.
व्यवसाय- कृषि, कारोबार
विधायक- 12वीं और 14वीं विधानसभा के सदस्य

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए टोंक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 11, 2018, 6:04 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर