लाइव टीवी

टोंक में एसआईटी ने किया 16 लोगों को गिरफ्तार, 35 वाहन हुए जब्त

Manoj Tiwari | News18 Rajasthan
Updated: October 21, 2019, 10:13 AM IST
टोंक में एसआईटी ने किया 16 लोगों को गिरफ्तार, 35 वाहन हुए जब्त
टोंक में गिरफ्तार किए गए अवैध बजरी के कारोबार से जुड़े 16 लोग

अवैध बजरी खनन मामले में टोंक में कलेक्टर के स्तर से गठित स्पेशल टास्क फोर्स (SIT) ने 16 लोगों को गिरफ्तार किया है और अवैध बजरी से लदे 35 वाहन जब्त किए गए हैं.

  • Share this:
टोंक. सुप्रीम कोर्ट से पूरे प्रदेश में बजरी दोहन, परिवहन व संग्रहण पर लगाई गई रोक के बाद भी टोंक जिले में चल रहे बजरी के अवैध कारोबार के खिलाफ प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की है. जिला कलेक्टर के स्तर से गठित एसआईटी (SIT) ने यह कार्रवाई टोंक, निवाई व पीपलू उपखंड क्षेत्र में की है. पिछले 24 घंटे में की गई इस कार्रवाई के दौरान बजरी से भरे 35 वाहनों के अलावा बजरी माफिया (Gravel mafia) रेकी के लिए जिस कार का इस्तेमाल करते थे वह कार व 2 बाइक भी जब्त की गई है. बजरी के अवैध कारोबार में लिप्त 16 लोगों को गिरफ्तार (arrested) किया गया है.

रेकी के लिए इस्तेमाल की जा रही कार और दो बाइक भी हैं जब्त वाहनों में 

एसआईटी नें पहली बड़ी कार्रवाई पीपलू उपखंड अधिकारी के लक्ष्मीनारायण बुनकर व वृत्ताधिकारी रामगोपाल बसवाल के नेतृत्व में की. यहां से बजरी से भरे 8 डंपर, 2ट्रेलर, 3 ट्रैक्टर ट्रोली, रेकी में प्रयुक्त कार, बाइक सीज़ किए गए. इस कारोबार में लिप्त कुल 16 लोगों की गिरफ्तारी की गई है.

जब्त किए गए अवैध बजरी से भरे बड़ी संख्या में वाहन


दूसरी बड़ी कार्रवाई निवाई के दत्तवास थाना क्षेत्र में की गई है जहां बजरी परिवहन करते 12 ट्रैक्टर व ट्रालियों को सीज़ किया गया है. एसआईटी ने तीसरी कार्रवाई जिला मुख्यालय के कोतवाली थाना क्षेत्र में की है, जहां से बजरी से भरी 10 ट्रैक्टर ट्रालियों व रेकी में प्रयुक्त एक बाइ को सीज़ किया गया.

 

ये भी पढ़ें- राजस्थान उपचुनाव LIVE: खींवसर और मंडावा के 525 मतदान केन्द्रों पर वोटिंग जारी
Loading...

EWS आरक्षण से भूमि और भवन संबंधी प्रावधान हुआ खत्म, अधिसूचना जारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए टोंक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 21, 2019, 10:13 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...