Assembly Banner 2021

Corona FAQ: कोरोना वैक्सीनेशन का तीसरा चरण, भ्रांतियां कतई ना पालें; उदयपुर में यहां लगवाएं टीका

हेल्थ केयर वर्कर एवं फ्रंटलाइन वर्कर के वैक्सीनेशन के दो फेज हो जाने के बावजूद अभी भी लोगों के मन में कोरोना टीकाकरण को लेकर कई तरह की शंकायें हैं. इन शंकाओं को दूर किया जाना बेहद जरुरी है. (सांकेतिक तस्वीर)

हेल्थ केयर वर्कर एवं फ्रंटलाइन वर्कर के वैक्सीनेशन के दो फेज हो जाने के बावजूद अभी भी लोगों के मन में कोरोना टीकाकरण को लेकर कई तरह की शंकायें हैं. इन शंकाओं को दूर किया जाना बेहद जरुरी है. (सांकेतिक तस्वीर)

Corona Vaccination: कोरोना महामारी से बचाव के लिये देशभर में चल रहे टीकाकरण को लेकर कई तरह भ्रांतियां (Misconceptions) लोगों के मन में है. इन भ्रांतियों को दूर किया जाना बेहद आवश्यक है. इन भ्रांतियों को दूर करने के लिये सीधे एक्सपर्ट्स से जानिये उनका समाधान.

  • Share this:
उदयपुर. कोरोना महामारी के मुकाबले में जुटे देश और प्रदेश में आज से वैक्सीनेशन के तीसरे चरण की शुरुआत हो चुकी है. इसके तहत उदयपुर जिले में 31 वैक्सीनेशन सेंटर पर आज 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों टीका लगाया जा रहा है. उदयपुर में इसके लिये 20 सरकारी और 11 निजी अस्पतालों में वैक्सीनेशन सेंटर बनाये गये हैं. वैक्सीनेशन सुबह 9 बजे शुरू हो चुका है. इनके साथ ही 45 साल के अधिक उम्र के वे लोग जो गंभीर बीमारियों से ग्रसित है उनको भी इस चरण में टीका लगाया जा रहा है.

जिले में वैक्सीनेशन के लिये सरकारी अस्पतालों में उदयपुर शहर में आरएनटी मेडिकल कॉलेज में चार सेंटर बनाये गये हैं. वहीं शहर के सैटेलाइट हॉस्पिटल चांदपोल और हिरण मगरी समेत यूसीएससी भुवाणा, यूपीएचसी सेक्टर 14 में भी टीकाकरण का केन्द्र बनाया गया है. इनेके अलावा जिले के 12 ब्लॉक की 1-1 सीएचसी में टीकाकरण केन्द्र स्थापित किये गये हैं.

इन निजी अस्पतालों में भी किया जा रहा है वैक्सीनेशन
सरकारी अस्पतालों के अलावा गीतांजलि मेडिकल कॉलेज, एआईआईएमएस बेडवास, पेसिफिक इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस उमरडा, पेसिफिक मेडिकल कॉलेज भीलो का बेदला, जीबीएच अमेरिकन हॉस्पिटल, संजीवनी हॉस्पिटल, मेवाड़ हॉस्पिटल, पारस जेके हॉस्पिटल, अरावली हॉस्पिटल, कल्पना नर्सिंग होम एवं चौधरी हॉस्पिटल सेक्टर 4 में टीकाकरण केन्द्र स्थापित किये गये हैं.
मार्च माह में इसे पूरा कर लिया जायेगा


वैक्सीनेशन के इस तीसरे चरण में उदयपुर में 60 वर्ष एवं उससे अधिक उम्र के कुल 3,86,414 लाभार्थियो को टीका लगाया जाना है. चिकित्सा विभाग के अनुसार मार्च माह में इसे पूरा कर लिया जायेगा. हेल्थ केयर वर्कर एवं फ्रंटलाइन वर्कर के वैक्सीनेशन के दो फेज हो जाने के बावजूद अभी भी लोगों के मन में कोरोना टीकाकरण को लेकर कई तरह की शंकायें हैं. आरएनटी मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. लाखन पोसवाल आपकी इन शंकाओं का समाधान कर रहे हैं.

  • प्रश्न- शहर में टीका लगाने वाले अस्पतालों की सूची में से कैसे चुने और कि किस अस्पताल में टीका लगवायें ?

    उत्तर - टीकाकरण अपने नजदीकी सेंटर पर करवाना चाहिए. सरकारी चिकित्सालय में निशुल्क टीकाकरण किया जा रहा है. ऐसे में इसका लाभ लेना चाहिए. निजी चिकित्सालय में सरकार की निर्धारित दर 250 रुपए चुका कर टीका लगवा सकते हैं.


  • प्रश्न- छोटे शहर जहां कोरोना बहुत नहीं फैला है क्या वहां टीका लेना चाहिए ?

    उत्तर - सरकार की ओर से जिन लोगों को टीकाकरण के लिए पात्र माना जा रहा है उन सभी को टीका लगवाना चाहिए. क्योंकि टीकाकरण से इम्यूनिटी विकसित होगी और उससे कोरोना फैलने की संभावनाएं बेहद कम होगी.


  • प्रश्न - कौन कौन सी वैक्सीन उपलब्ध हैं उनके नफा नुकसान क्या-क्या हैं ?

    उत्तर - केंद्र सरकार ने स्वदेश में बनी कोवीशिल्ड और कोवैक्सीन को स्वीकृत किया है. देशभर में यही दो वैक्सीन लगाई जा रही है. इन्हें लगवाने का कोई नुकसान नहीं है क्योंकि यह पूरी तरह से टेस्टड हैं.


  • प्रश्न - वैक्सीन के रिएक्शन के बारे में क्या स्थिति है ?

    उत्तर - वैक्सीन का रिएक्शन कुल लाभार्थियों में से सिर्फ 1% से कम लोगों में देखा जा रहा है. इसमें हल्का बुखार आना और कमजोरी महसूस होना है. बुखार आने पर चिकित्सकीय सलाह जरुर लेवें और प्रोटोकॉल की पालना करनी है.


  • प्रश्न- जिन लोगों के डायबटीज, हाईपरटेंशन, हार्ट, किडनी और लिवर से संबंधित गंभीर बीमारियां हैं उन इस वैक्सीन का असर क्या रहेगा ?

    उत्तर - जो व्यक्ति गंभीर बीमारियों से ग्रसित है उन्हें भी वैक्सीन लेनी चाहिए. क्योंकि उसी से कोरोना फैलने का डर कम होगा. बीमारियों से ग्रसित लोगों पर भी इसका रिएक्शन बहुत कम देखा गया है.


  • प्रश्न - टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे कराना है ?

    उत्तर - टीकाकरण के तीसरे चरण के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया वैक्सीनेशन सेंटर पर ही रखी गई है. कोई भी वरिष्ठ नागरिक वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवाकर टीका लगवा सकता है.


  • प्रश्न - क्या जहां टीका लगाया जा रहा है वो जगह कोविड फैलाने का बहुत बड़ा केन्द्र तो नहीं हो गई है

    उत्तर - ऐसा नहीं है. जहां टीकाकरण किया जा रहा है वहां भी कोरोना प्रोटोकॉल की पालना करनी है. मास्क लगाकर और सोशल डिस्टेंसिंग रखकर ही केन्द्र में प्रवेश करना है.


  • प्रश्न - सेंटर पर टीका लगवाने के लिये क्या प्रक्रिया है और दिए गए समय से लेट हो जाएं तो क्या होगा

    उत्तर - टीकाकरण सेंटर पर लाभार्थी अपना रजिस्ट्रेशन कराने के लिए कतार में इंतजार करते हैं. बुजुर्ग व्यक्ति के परिजन कतार में लग सकते हैं और अपना नंबर आने पर लाभार्थी को बुलाकर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं. कोशिश की जा रही है कि जल्दी से जल्दी रजिस्ट्रेशन कर टीका लगाया जाए और बुजुर्ग व्यक्तियों को घर भेजा जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज