चारभुजानाथजी से हुआ सीएम राजे की 'राजस्थान गौरव यात्रा' का आगाज
Udaipur News in Hindi

चारभुजानाथजी से हुआ सीएम राजे की 'राजस्थान गौरव यात्रा' का आगाज
चारभुजानाथजी में यात्रा रथ काे रवाना करते अमित शाह। फोटो : फेसबुक

शक्ति, भक्ति और महाराणा प्रताप के रण कौशल की भूमि मेवाड़ के चारभुजा से सीएम राजे ने शनिवार को राजस्थान गौरव यात्रा का शुभारंभ किया. यात्रा का भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने झंडी दिखाकर रवाना किया.

  • Share this:
विधानसभा के चुनावी समर में जीत के लिए मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की बहुप्रतिक्षित राजस्थान गौरव यात्रा का शुभारंभ हो गया है.  यात्रा का आगाज शक्ति, भक्ति और महाराणा प्रताप के रण कौशल की भूमि मेवाड़ के चारभुजा से हुआ. यात्रा को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने हरी झंडी दिखाई. यात्रा से पहले मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने चारभुजा मंदिर में पूजा अर्चना कर यात्रा की सफलता की मनोकामना मांगी. शाह द्वारा हरी झंडी दिखाए जाने के बाद रथ को मंदिर से रवाना किया गया.

सीएम राजे ने इससे पहले सुराज संकल्प और परिवर्तन यात्रा यहीं से निकाली थी और बीजेपी ने प्रदेश में भारी बहुमत हासिल करते हुए सत्ता हासिल की थी. इसी उम्मीद से बीजेपी इस बार भी राजस्थान गौरव यात्रा की शुरुआत 4 अगस्त को चारभुजा से कर रही है. तीसरी बार भी यहीं से यात्रा के आगाज के पीछे सिर्फ चारभुजा के प्रति श्रद्धा और आस्था नहीं बल्कि एक बड़ी वजह मेवाड़ और यहां की 28 सीटों को साधना भी है.

यहीं से निकलता है सत्ता का रास्ता
प्रदेश को तीन मुख्यमंत्री देने वाला राजस्थान का दक्षिणांचल, पारंपरिक भाषा में मेवाड़-वागड़ के नाम से जाना जाता है. कहते हैं कि 6 जिलों की 28 सीटों वाले इस क्षेत्र से ही प्रदेश की सत्ता का रास्ता जाता है. शायद यही वजह हैं कि बीजेपी, कांग्रेस और अन्य पार्टियां यहां चुनावी तैयारियों में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती. वर्ष 1998 में कांग्रेस, वर्ष 2003 में बीजेपी, वर्ष 2008 में कांग्रेस, और फिर वर्ष 2013 फिर बीजेपी को मेवाड़ ने सत्ता तक पहुंचाया. ऐसे में इस बार इसी ट्रेंड को लेकर चर्चाओं का दौर जबरदस्त है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading