उदयपुर: महाराणा प्रताप पर विवादास्पद टिप्पणी, धमकियों से परेशान नेता प्रतिपक्ष कटारिया ने दर्ज कराई FIR

महाराणा प्रताप के लिए चयन किए गए शब्दों को लेकर कटारिया 3 बार माफी मांग चुके हैं, लेकिन उसके बावजूद लगातार उन्हें धमकियां मिल रही है.

महाराणा प्रताप के लिए चयन किए गए शब्दों को लेकर कटारिया 3 बार माफी मांग चुके हैं, लेकिन उसके बावजूद लगातार उन्हें धमकियां मिल रही है.

Controversial comment case on Maharana Pratap : महाराणा प्रताप पर विवादास्पद टिप्पणी कर चौतरफा घिरे नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद (Gulabchand Kataria) इस मामले को लेकर लगातार मिल रही धमकियों से परेशान हो गये हैं. इसके लिये कटारिया ने अब पुलिस की शरण ली है.

  • Share this:
उदयपुर. महाराणा प्रताप (Maharana Pratap) पर दिए गए विवादित बयान के बाद राजस्थान विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष और उदयपुर शहर के विधायक गुलाबचंद कटारिया (Gulabchand Kataria) का विरोध लगातार जारी है. बीजेपी नेता कटारिया आमजन के निशाने पर हैं कई लोग उन्हें धमकियां भी दे चुके है. लगातार मिल रही धमकियों से परेशान होकर गुलाबचंद कटारिया ने उदयपुर में एफआईआर (FIR) दर्ज कराई है.

कटारिया ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ जान से मारने की धमकी देने का परिवाद उदयपुर रेंज के आईजी को डाक के जरिये भेजा है. आईजी के निर्देश पर सुखेर थाना पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. पुलिस ने आईपीसी की धारा-506 और 66 आईटी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की है.

Youtube Video


परिवाद में यह कहा नेता प्रतिपक्ष ने
कटारिया की ओर से पुलिस को भेजे गए परिवाद में बताया गया कि उन्होंने 12 अप्रैल को राजसमंद के कुंवारिया गांव में चुनाव प्रचार के दौरान महाराणा प्रताप के लिए कुछ शब्दों का प्रयोग किया था. उसके बाद लगातार उन्हें सोशल मीडिया, मैसेज और फोन पर धमकियां मिल रही है. कटारिया ने बताया कि वह महाराणा प्रताप के लिए चयन किए गए शब्दों को लेकर वे 3 बार माफी मांग चुके हैं, लेकिन उसके बावजूद उन्हें लगातार धमकियां दी जा रही है.

15 दिन में तीन बार माफी मांग चुके हैं कटारिया

उल्लेखनीय है कि विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान महाराणा प्रताप के लिए विवादित शब्दों का प्रयोग करने के बाद गुलाबचंद कटारिया प्रदेशभर में लोगों के निशाने चल रहे हैं. हालांकि कटारिया ने 15 दिन में तीन बार माफी मांग कर अपने द्वारा चयन किए गए शब्दों को गलत बता चुके हैं. उनका कहना था कि महाराणा प्रताप के प्रति उनके भाव बिल्कुल सही है.



कटारिया को सभी टारगेट कर रहे हैं

हालांकि इस बयान के बाद कांग्रेस और अन्य लोगों ने गुलाबचंद कटारिया को जमकर निशाने पर लिया. लगातार कटारिया को सभी टारगेट कर रहे हैं. कई लोगों ने सोशल मीडिया पर कटारिया को धमकी देने के साथ ही अपशब्द भरे वीडियो भी पोस्ट किये हैं. पिछले 15 दिनों से ऐसे हजारों संदेश मिलने के बाद अब गुलाबचंद कटारिया ने कानून की शरण में जाना उचित समझा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज