Home /News /rajasthan /

Udaipur Crime दामाद के मर्डर को ससुर और साले ने मुंबई से भेजा शार्प शूटर, 20 लाख की दी सुपारी

Udaipur Crime दामाद के मर्डर को ससुर और साले ने मुंबई से भेजा शार्प शूटर, 20 लाख की दी सुपारी

उदयपुर पुलिस की गिरफ्त में शार्प शूटर और उसका साथी.

उदयपुर पुलिस की गिरफ्त में शार्प शूटर और उसका साथी.

Udaipur Crime News: उदयपुर पुलिस ने मुंबई से आये एक शार्प शूटर (Sharp shooter killer) समेत दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है. ये बदमाश प्रतापगढ़ जेल में बंद फैजल नाम के कैदी को मारने के लिये आये थे, इन बदमाशों को फैजल को मारने के लिये 20 लाख रुपये की सुपारी दी गई थी. फैजल को मारने की योजना दुबई में उसके ससुर और साले ने बनाई थी, लेकिन पुलिस की सतर्कता से दोनों बदमाश पकड़े गये. बता दें कि फैजल वो शख्स है, जिसने मूसा की बहन से शादी की थी, लेकिन दोनों के बीच रिश्ता टूट गया. संभवतः यही वजह थी कि बहन की जिंदगी में तबाही का तूफान लाने वाली की मौत के लिए बदले की यह साजिश रची गई.

अधिक पढ़ें ...

उदयपुर. उदयपुर पुलिस ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए मुंबई से आए शार्प शूटर सुपारी किलर (Sharp shooter killer) परवेज सहित उदयपुर के हसनैन नाम के युवक को गिरफ्तार किया है. ये लोग प्रतापगढ़ जेल में बंद फैजल को मारने के लिए दुबई से मिली सुपारी के बाद उदयपुर में घूम रहे थे. राजस्थान के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (Special operations group) की ओर से मिले इनपुट के बाद उदयपुर के अंबामाता थाना पुलिस और डीएसटी की टीम ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए एक बड़ी घटना को होने से पहले रोक दिया.

पुलिस के अनुसार ये दोनों युवक दुबई में बिजनेस करने वाले और मुंबई में रहने वाले याकूब और उसके पुत्र मूसा की ओर से सुपारी मिलने पर हथियारों के साथ उदयपुर में घूम रहे थे. इनका उद्देश्य प्रतापगढ़ जेल में बंद फैजल नाम के कैदी को शूट करना था. फैजल को मारने के लिए मूसा और याकूब ने 20 लाख रुपये की सुपारी देकर परवेज और हसनैन को तैयार किया था. इसमें मुख्य रूप से हसनैन मध्यस्थ की भूमिका में था. उसे परवेज को फैजल के बारे में जानकारी देनी थी. यही नहीं दोनों सुपारी किलर को यहां तक निर्देश दिए गए थे कि यदि निशाना चूक जाता है तो फैजल को सल्फॉस की गोली खिलाकर भी मारना है.

हवाला के जरिये रुपये किये ट्रांसफर

अंबामाता थाना प्रभारी सुनील टेलर के अनुसार एसओजी की टीम पिछले कई दिनों से इस मामले को मॉनिटर कर रही थी और तकनीकी माध्यमों से सुपारी किलर और सुपारी देने वालों की बातचीत की भी जानकारी जुटा रही थी. आरोपियों को मुंबई से हवाला के मार्फत कुछ रुपए भी ट्रांसफर किए गए. इसके साथ ही 80000 रुपये पिस्टल खरीदने के लिए भेजे गए. इस पर हसनैन ने दो पिस्टल और कुछ कारतूस खरीदे. उसका ट्रायल कर वीडियो बनाया गया. वह वीडियो मूसा को भेजा गया था। पुलिस ने सभी साक्ष्य इकट्ठे कर लिए हैं और अग्रिम अनुसंधान कर रही है.

यह है पुरानी रंजिश

प्रारंभिक तौर पर जानकारी में सामने आया है कि फैजल ने मूसा की बहन से शादी की थी, लेकिन उसके बाद उनका संबंध विच्छेद हो गया. उसके बाद मूसा के ममेरे भाई को एक हादसे में मरवाने का आरोप भी फैजल पर लगा. उस मामले में फैजल अभी भी जेल में बंद है. इसी मामले का बदला लेने के लिए याकूब और मूसा फैजल को मरवाना चाहते थे. मूसा ने परवेज को पूरी प्लानिंग के साथ उदयपुर भेजा था. फैजल बीमारी के नाम पर अक्सर प्रतापगढ़ जेल से उदयपुर के एमबी हॉस्पिटल आया करता था. इसी दौरान परवेज को उसे मारने की सुपारी दी गई थी.

फैजल को जेल में ही रुकवाया

पुलिस ने सूचना मिलते ही सबसे पहले फैजल को जेल में ही सुरक्षित रुकवा दिया और उसके बाद नाकाबंदी करते हुए इस कार्रवाई को अंजाम दिया है. पुलिस मूसा और याकूब के बारे में जानकारी जुटाने में लगी हुई है.

Tags: Crime News, Rajasthan latest news, Rajasthan news, Udaipur news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर