लाइव टीवी

तबलीगी जमात के चार लोग किए गए संस्थागत क्वॉरेंटाइन, मरकज में शामिल होने की अभी तक नहीं हुई पुष्टि
Udaipur News in Hindi

Kapil Shrimali | News18 Rajasthan
Updated: April 1, 2020, 7:41 AM IST
तबलीगी जमात के चार लोग किए गए संस्थागत क्वॉरेंटाइन, मरकज में शामिल होने की अभी तक नहीं हुई पुष्टि
उदयपुर के मल्लातलाई इलाके में जब क्षेत्रवासियों को यह अंदेशा हुआ कि जमात के लोग संभवतया दिल्ली के निजामुद्दीन जा कर आए हैं. (सांकेतिक फोटो)

जानकारी के अनुसार, निजामुद्दीन (Nizamuddin) के मरकज में राजस्थान के भी 19 लोग शामिल हुए थे जिनकी लिस्ट अभी तक चिकित्सा विभाग के पास नहीं मिल पाई है.

  • Share this:
उदयपुर.  राजस्थान के उदयपुर (Udaipur) में आज मल्लातलाई (Mallatlai) इलाके के रहने वाले चार लोगों को क्वॉरेंटाइन किया गया है. यह लोग तबलीगी जमात से ताल्लुक रखते हैं. हालांकि, दिल्ली के निजामुद्दीन (Nizamuddin) स्थित मरकज में अभी इन लोगों के जाने की पुष्टि नहीं हुई है. दरअसल, निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के कार्यक्रम में देश और दुनिया के सैकड़ों लोग जमा हुए थे. उसके बाद यह लोग देश के अलग-अलग राज्यों में भी पहुंच गए. अब सरकार अपने स्तर पर तबलीगी जमात के लोगों को ढूंढ कर एहतिहात बरतते हुए क्वॉरेंटाइन कर रही है. यही वजह है कि उदयपुर में भी तबलीगी जमात के लोगों की जानकारी मिलते ही उन्हें संस्थागत क्वॉरेंटाइन होम में रखा गया है.

जानकारी के अनुसार, निजामुद्दीन के मरकज में राजस्थान के भी 19 लोग शामिल हुए थे जिनकी लिस्ट अभी तक चिकित्सा विभाग के पास नहीं मिल पाई है. ऐसे में कोशिश की जा रही है कि जमात से जुड़े लोगों को क्वॉरेंटाइन किया जाए, ताकि कोरोनावायरस संक्रमण को बढ़ने से रोकने में मुश्किल का सामना नहीं करना पड़े.

दिल्ली के निजामुद्दीन जा कर आए हैं
उदयपुर के मल्लातलाई इलाके में जब क्षेत्रवासियों को यह अंदेशा हुआ कि जमात के लोग संभवतया दिल्ली के निजामुद्दीन जा कर आए हैं, तो ऐसे में उन्होंने चिकित्सा विभाग को तुरंत इसकी सूचना दी. चिकित्सा विभाग और जिला प्रशासन इस मामले को पूरी गंभीरता से ले रहा है. ऐसे में जब टीम इनके निवास स्थान पर पहुंची तो डर के मारे इन्होंने उनका सहयोग नहीं किया. इसके चलते टीम ने सभी को ओटीसी में क्वॉरेंटाइन कर रखा है. इन लोगों से पूछताछ भी की गई है, हालांकि उन्होंने अभी तक दिल्ली जाने की बात कबूल नहीं की है. लेकिन एक महीने तक सीकर में रहकर आने की बात प्रशासन को बताई है. प्रशासन इस मामले में लापरवाही नहीं बरतना चाहता है. इसलिए सभी को 14 दिन तक क्वॉरेंटाइन हाउस में रहना पड़ेगा.



पॉजिटिव मरीज सामने नहीं आया है


उदयपुर में अभी तक कोरोनावायरस का एक भी पॉजिटिव मरीज सामने नहीं आया है. ऐसे में चिकित्सा विभाग की यही कोशिश है कि ऐसे किसी भी संदिग्ध व्यक्ति के प्रति लापरवाही नहीं बरती जाएगी जिससे जिले में कोरोनावायरस फैलने की आशंका हो. यही वजह है कि कई लोगों को होम क्वॉरेंटाइन किया गया है .वहीं,  संस्थागत क्वॉरेंटाइन करने में भी चिकित्सा विभाग चूक नहीं कर रहा है.

ये भी पढ़ें- 

जयपुर में मिले पांच चीनी नागरिक, नगर निगम ने पूरे इलाके को कराया सेनेटाइज

Lockdown: राज्य सरकार ने तय किए सब्जियों के दाम, जयपुर में हैं ये भाव
First published: April 1, 2020, 7:34 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading