उदयपुर में स्थापित होते हैं मां दुर्गा के नौ स्वरूप, उमड़ती है श्रद्धालुओं की भीड़

झीलों की नगरी उदयपुर में शुलधारिणी सेना ओर से गत नौ बरसों से एक अनूठा आयोजन किया जाता है. यह संगठन यहां मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की स्थापना करता है. माता के अलग-अलग इन स्वरूपों के एक साथ दर्शनों के लिए बड़ी संख्या में लोग उमड़ते हैं.

News18 Rajasthan
Updated: October 13, 2018, 6:42 PM IST
उदयपुर में स्थापित होते हैं मां दुर्गा के नौ स्वरूप, उमड़ती है श्रद्धालुओं की भीड़
उदयपुर में सजा मां का दरबार। फोटो: न्यूज18 राजस्थान ।
News18 Rajasthan
Updated: October 13, 2018, 6:42 PM IST
देशभर में नवरात्र का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है. प्रमुख मंदिरों और शक्तिपीठों में हजारों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचे रहे हैं. झीलों की नगरी उदयपुर में शूलधारिणी सेना ओर से गत नौ बरसों से एक अनूठा आयोजन किया जाता है. यह संगठन यहां मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की स्थापना करता है. माता के अलग-अलग इन स्वरूपों के एक साथ दर्शनों के लिए बड़ी संख्या में लोग उमड़ते हैं.

शूलधारिणी सेना की ओर से मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की शोभायात्रा निकालकर उन्हें रेती स्टेण्ड स्थित आवरी माता मंदिर में स्थापित किया जाता है. ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग मां के स्वरूपों के दर्शन कर सकें. नवरात्री के दौरान मां की प्रतिमा के आगे अखंड दीया प्रज्ज्वलित रहता है और दोनों समय आरती होती. यहां बड़ी श्रद्धा के साथ लोग आते हैं.

ईको फेंडली प्रतिमाएं बनाई जाती हैं
संगठन के संस्थापक गजेन्द्र आचार्य कहते हैं कि युवाओं को भारतीय संस्कृति और देवी-देवताओं के प्रति जागरुक करने की जरूरत है. खास बात यह भी है कि बढ़ते प्रदूषण को ध्यान में रखते हुए शुलधारिणी सेना की ओर से मां की प्रतिमाएं ईको फेंडली बनाई जाती हैं, जिससे प्रकृति सुरक्षित रहे और मिट्टी से निर्मित इन प्रतिमाओं के विसर्जन से झीलें भी गंदी ना हो.

शिव पुराण में है वर्णन
शिव पुराण में दुर्गा के इन नौ स्वरूपों के उत्पन्न होने की कथा का वर्णन है. कहा जाता है सृष्टि पर बढ़ते नरसंहार और दयनीय स्थितियों के बाद मां शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चन्द्रघण्टा, कूष्माण्डा, स्कन्दमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धिदात्री माता के रूप प्रकट हुई. यही कारण है कि आज पूरे भारत में हर जगह दुर्गा यानि नवदुर्गा के मन्दिर स्थापित हैं.

(रिपोर्ट : सतीश शर्मा )
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर