Home /News /rajasthan /

killers of hindu tailor in udaipur linked to pakistan extremist group dawat e islam know the latest update nodps

Udaipur: आरोपी गौस मोहम्मद 2014 में गया था पाकिस्तान, जानिए डीजीपी लाठर ने और क्या कहा

डीजीपी एमएल  लाठर ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि एक आरोपी गौस मोहम्मद का दावत ए इस्लामी नाम के संगठन के सम्पर्क में था.

डीजीपी एमएल लाठर ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि एक आरोपी गौस मोहम्मद का दावत ए इस्लामी नाम के संगठन के सम्पर्क में था.

Udaipur Murder Case: उदयपुर में कन्हैयालाल हत्याकांड मामले की जांच की कमान एनआईए ने संभाल ली है. राजस्थान पुलिस अब इस मामले में सहयोग कर रही है. पुलिस की शुरुआती जांच में कई खुलासे हुए हैं. डीजीपी एमएल लाठर ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि एक आरोपी गौस मोहम्मद का दावत ए इस्लामी नाम के संगठन के सम्पर्क में था. इस संगठन के तहत ही आरोपी गौस मोहम्मद साल 2014 में पाकिस्तान के कराची में गया था. इसके बाद पुलिस ने आरोपियों को विदेशी कनेक्शन के बारे में जांच तेज कर दी है.

अधिक पढ़ें ...

उदयपुर. राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल की निर्मम हत्या के मामले में राजस्थान पुलिस के अलावा अब एनआईए ने भी जांच शुरु कर दी है. पुलिस की शुरुआती जांच में कई खुलासे हुए हैं. डीजीपी एमएल  लाठर ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि एक आरोपी गौस मोहम्मद का दावत ए इस्लामी नाम के संगठन के सम्पर्क में था. इस संगठन के तहत ही आरोपी गौस मोहम्मद साल 2014 में पाकिस्तान के कराची में गया था. पुलिस ने बताया कि दावत ए इस्लामी संगठन का काम कुरान को लेकर ज्ञानवर्धन का है. उन्होंने बताया कि इस संगठन का दिल्ली और मुम्बई में मुख्यालय है. डीजीपी ने बताया कि आरोपियों को विदेशी कनेक्शन के बारे में जांच तेज कर दी है.

उन्होंने बताया कि आरोपियों के डिजिटल एविडेंस को लेकर राजस्थान पुलिस और एनआईए जांच कर रही है. उन्होंने बताया कि इस मामले को एक्ट ऑफ टेरर मानते हुए यूएपीए के तहत मामला दर्ज कर जांच की जा रही है. उन्होंने बताया कि मृतक कन्हैयालाल ने 15 जून को थाने में परिवाद दिया था कि चार पांच लोग उसका पीछा कर रहे हैं. इस मामले में  दोनों पक्षों में समझौता हो गया था. उन्होंने बताया कि समझौता करने वाले और मृतक पर हमला करने वालों के बीच अब तक कोई कनेक्शन नहीं मिला है. लेकिन पुलिस अभी जांच कर रही है. उन्होंने बताया कि मंगलवार को एएसआई को सस्पेंड किया गया था. बुधवार को एसएचओ को भी संस्पेंड कर दिया गया है.

पुलिस अधिकारियों के खिलाफ होगी कार्रवाई

साथ ही जिन पुलिस अधिकारियों की कमी पाई जाएगी तो उन पर भी कार्रवाई की जाएगी. डीजीपी ने बताया कि मामले में दोनों आरोपियों के अलावा तीन अन्य को भी हिरासत में लिया गया है. तीन अन्य हिरासत में लिए गए युवक आरोपियों के सम्पर्क में थे. उन्होंने बताया कि मृतक पर हमला करने वालों की अभी तक कोई क्रिमिनल हिस्ट्री सामने नहीं आई है. डीजीपी ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ धारा 452, 302, 153ए, डी, 295ए, 34, 16, 18 यूएपीए में मामला दर्ज कर जांच की जा रही है. उन्होंने बताया कि अब पूरे मामले की जांच एनआईए कर रही है. राजस्थान पुलिस जांच में सहयोग कर रही है. डीजीपी ने बताया कि प्रारंभिक पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उन्होंने जिस हथियार से मृतक पर हमला किया था वो उसने चार-साल पहले खुद ही बनाया था.

Tags: Rajasthan news, Udaipur news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर