Home /News /rajasthan /

सरकारी स्‍कूलों में शिक्षकों की कमी, अब राजसमंद में फूटा छात्रों का गुस्‍सा

सरकारी स्‍कूलों में शिक्षकों की कमी, अब राजसमंद में फूटा छात्रों का गुस्‍सा

राजसमंद जिला मुख्यालय पर राजनगर के राजकीय उच्च माध्यमिक स्‍कूल में विषय अध्यापकों की कमी के चलते छात्र आक्रोशित हो गए.

राजसमंद जिला मुख्यालय पर राजनगर के राजकीय उच्च माध्यमिक स्‍कूल में विषय अध्यापकों की कमी के चलते छात्र आक्रोशित हो गए.

राजसमंद जिला मुख्यालय पर राजनगर के राजकीय उच्च माध्यमिक स्‍कूल में विषय अध्यापकों की कमी के चलते छात्र आक्रोशित हो गए.

    राजसमंद जिला मुख्यालय पर राजनगर के राजकीय उच्च माध्यमिक स्‍कूल में विषय अध्यापकों की कमी के चलते छात्र आक्रोशित हो गए.

    शिक्षामंत्री के खिलाफ नारेबाजी

    शनिवार सुबह स्कूल में तालाबंदी कर छात्र-छात्राएं बाहर निकाल आए. छात्रों ने स्‍कूल से बाहर निकलकर शिक्षामंत्री वासुदेव देवनानी और शिक्षा विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. घटना की सूचना पर राजनगर थानाधिकारी विवेकसिंह मौके पर पंहुचे और छात्रों से समझाइश के प्रयास किए. छात्रों का कहना हैं कि जिला मुख्यालय का बडा स्कूल होने से यहां आसपास के गांवों से बच्चे पढने आते हैं. शिक्षकों की कमी के चलते पढाई नहीं हो पा रही जिससे स्‍कूल का परीक्षा परिणाम भी प्रभावित हो रहा है.

    आश्‍वासन के बाद संचालन

    करीब एक घण्टे बाद अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी कमला शर्मा सकूल पहुंची और छात्रों से समझाइश की. लेकिन छात्रों ने शनिवार को ही शिक्षक लगाने की मांग रखी तो अधिकारीयों के निर्देश पर प्रारंभिक विद्यालयों में कार्यरत उच्च शिक्षित शिक्षकों को लगाकर व्यवस्थाएं करवाने का आश्‍वासन दिया. इसके बाद छात्र अपनी कक्षाओं में गए. एडीओ कमला शर्मा ने बताया कि जिले में शिक्षकों की कमी के चलते जो कार्य प्रभावित हो रहा हैं, उसके लिये जिला शिक्षा अधिकारी ने मुख्यालय को सूचना दे दी है और दो दिन बाद वे खुद बीकानेर जाकर उच्च अधिकारियों को इस समस्या से अवगत कराएगें. उन्होंने कहा की अगस्त माह तक जिले के सभी विद्यालयों में शिक्षकों की कमी को पूरा कर लिया जायेगा

    Tags: उदयपुर

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर