Lockdown: नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने शादी की सालगिरह की काटी केक, सोशल मीडिया पर हुए ट्रोल
Udaipur News in Hindi

Lockdown: नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने शादी की सालगिरह की काटी केक, सोशल मीडिया पर हुए ट्रोल
गुलाबचंद कटारिया की शादी की सालगिरह पर जुटे कार्यकर्ता

राजस्थान के नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया (gulab chand kataria) की शादी की सालगिरह (Marriage Anniversary) पर उनके कुछ समर्थकों ने जमा होकर उनसे केक कटवा डाला. कार्यकर्ताओं ने इसकी वीडियो वायरल कर दी. अब वे ट्रोल हो रहे हैं.

  • Share this:
उदयपुर. लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान पूरे देश में निषेद्याज्ञा लागू है. ऐसे में हर तरह के धार्मिक, सामाजिक, पारिवारिक समारोहों पर रोक लगी हुई है. अगर कहीं समारोह आयोजित हो रहे हैं तो वहां महज पांच लोगों के जमा होने की इजाजत दी जाती है. यहां तक कि किसी की मृत्यु हो जाने पर भी 20 से ज्यादा लोगों को अंतिम संस्कार में जाने की अनुमति नहीं है. लेकिन राजस्थान विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया (Gulab Chand Kataria) की शादी की सालगिरह (Marriage Anniversary) पर उनके कुछ समर्थकों ने एक जगह जमा होकर उनसे केक कटवा डाला. इतना ही नहीं कार्यकर्ताओं को हमेशा कड़े शब्दों में नियमों का पालन करने का आदेश देने वाले कटारिया इस बार स्वयं भी लॉकडाउन के नियमों को भूल गए और उन्होंने अपनी पत्नी के साथ मिलकर केक काटा. इस मौके पर कार्यकर्ताओं की संख्या लॉकडाउन के नियमों के तहत आने वाले लोगों से काफी ज्यादा थी.

कटारिया के निवास के पास काटा गया केक

नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया को सुबह से सोशल मीडिया पर और फोन के माध्यम से बधाई मिलती रही, लेकिन कुछ उत्साही कार्यकर्ताओं ने कटारिया के सामने केक काटकर अपनत्व दिखाने की कोशिश की. जानकारी के अनुसार कटारिया के निवास के पास बने सामुदायिक भवन में, जिसे जरूरतमंद लोगों के लिये भोजन बनाने के काम में लिया जा रहा है, वहां कटारिया से कार्यकर्ताओं ने केक कटवाया. यहां इकट्ठा हुए अधिकांश वही कार्यकर्ता मौजूद थे, जिन्हें जरूरतमंदों की मदद के लिए घरों से बाहर निकलने के लिए पास दिए गए थे.



केक काटने की वीडियो और फोटो वायरल
कटारिया के केक काटते और लोगों के साथ हंसी-मजाक के वीडियो और फोटो बाद में इन्हीं कार्यकर्ताओं ने सोशल मीडिया पर वायरल कुए. उसके बाद कटारिया लोगों के निशाने पर आ गए. लॉकडाउन के चलते पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने पिता के अंतिम संस्कार तक में शामिल नहीं हो सके थे. यहीं नहीं फिल्म अभिनेता ऋषि कपूर की बेटी लॉकडाउन के चलते पिता के अंतिम दर्शन नहीं कर सकी. तो वहीं इरफान खान के निधन पर जयपुर से उनके कई रिश्तेदार और चाहने वाले मुंबई में उनके जनाजे में शरीक होने से वंचित रह गए. इस बीच लोगों ने इन सभी का उदाहरण देते हुए कटारिया को ट्रोल किया. लोगों ने कटारिया के कार्यकर्ताओं और समर्थकों की इस हरकत को भी शर्मनाक बताया.

लॉकडाउन के उल्लंघन पर कार्यकताओं पर कार्रवाई की मांग

सोशल मीडिया पर कटारिया और उनक करीबी कार्यकर्ताओं को निशाने पर लेते हुए इसे लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन बताते हुए लोग अब कार्रवाई की मांग कर रहे हैं. स्थानीय प्रशासन के पास भी अब यह मामला पहुंच गया है. सूत्रों की मानें तो प्रशासन असमंजस की स्थिति में हैं क्योंकि गुलाबचंद कटारिया प्रदेश के कद्दावर नेताओं में शुमार हैं. ऐसे में देखना होगा कि लॉकडाउन उल्लंघन के इस मामले को प्रशासन कितनी गंभीरता से लेता है.

ये भी पढ़ें:  Lockdown-3.0: क्या कहती है केन्द्र की गाइडलाइन, किसकी छूट है और किसकी नहीं

महासंकट में आई भीलवाड़ा की Textile Industry, 400 यूनिट ठप, 1500 करोड अटके 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading