लाइव टीवी

महाराणा प्रताप के वंशज लक्ष्यराज सिंह ने जन्मदिन पर पौधारोपण कर बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

Kapil Shrimali | News18 Rajasthan
Updated: January 28, 2020, 4:35 PM IST
महाराणा प्रताप के वंशज लक्ष्यराज सिंह ने जन्मदिन पर पौधारोपण कर बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड
लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ को वर्ल्ड रिकॉर्ड बनने पर सर्टिफिकेट प्रदान करती गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम

मेवाड़ पूर्व राजघराने के सदस्य लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ (lakshyaraj singh mewar) ने अपने जन्मदिन (bithday) पर बच्चों के साथ पौधारोपण (Plantation) करके गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड (Guinness Book of World Records) में अपना नाम दर्ज कराया.

  • Share this:
उदयपुर. राजस्थान के उदयपुर (Udaipur) के मेवाड़ पूर्व राजघराने के सदस्य लक्ष्यराज सिंह मेवाड़
(lakshyaraj singh mewar) ने आज अपना जन्मदिन (Birthday) बच्चों के बीच मनाया. सिटी पैलेस के माणक चौक में आयोजित कार्यक्रम में शहर के विभिन्न स्कूलों के बच्चें शामिल हुए, जहां लोगों ने लक्ष्यराज सिंह को जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं साथ उनके साथ बच्चों ने पौधारोपण (Plantation) भी किया.

लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ ने जन्मदिन पर पेश की प्रकृति प्रेम की अनूठी मिसाल

लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ के जन्मदिन पर बधाई देने वाले लोगों की भीड़ लगी रही, तो वहीं सभी से गर्मजोशी से मिलते हुए लक्ष्यराज सिंह ने भी बच्चों के साथ समय बिताया. जन्मदिन को यादगार बनाने के लिये लक्ष्यराज सिंह ने आज अपने चिर-परिचित अंदाज में अनूठा कार्य किया. लक्ष्यराज सिहं मेवाड़ के जन्मदिन के मौके पर माणक चौक में सभी स्कूली बच्चों के लिए एक छोटा गमला, एक पौधा और पानी रखा गया, जिसमें एक साथ सभी बच्चों ने गमले में पौधारोपण किया. इस पूरे कार्यक्रम में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड (Guinness Book of World Records) की टीम भी मौजूद रही, जिन्होंने पौधारोपण करने वाले बच्चों की गिनती करने के बाद नए वर्ल्ड रिकॉर्ड बनने का एलान किया.

लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ के जन्मदिन पर लोगों ने एक साथ लगाए 4035 पौधे
लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ के जन्मदिन पर लोगों ने एक साथ लगाए 4035 पौधे


गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम हुआ दर्ज

लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ को वर्ल्ड रिकॉर्ड बनने पर सर्टिफिकेट भी प्रदान किया गया. इस मौके पर लक्ष्यराज सिंह ने प्रकृति बचाने के लिए ज्यादा से ज्यादा पौधेरोपित करने लिए जागरूकता लाने की बात कही. इस दौरान उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम आमजन को पौधारोपण के प्रति जागरूक करने के लिए ही किया गया था. बच्चों ने भी इस कार्यक्रम को लेकर खासे उत्साहित नजर आए और गमले में पौधारोपण किया.चार हजार से ज्यादा स्कूली बच्चों ने एक साथ किया पौधारोपण

लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ ने भी बच्चों के बीच बैठकर अपनी पत्नी निवृति कुमार और बच्चों के पौधारोपण कर अपने संकल्प को पूरा किया. इस मौके पर बच्चों ने इस बात भी खुशी जताई की पौधारोपण के इस वर्ल्ड रिकॉर्ड में वे भी सहभागी बन सके. गौरतलब है कि लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ ने इससे पहले विशाल स्तर पर कपड़ो का वितरण और फिर शिक्षण सामग्री वितरित कर विश्व रिकॉर्ड बनाया था. आज पौधारोपण में भी 4035 बच्चों ने एक साथ पौधारोपण कर लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ को तीसरी बार गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया गया.

यह भी पढ़ें- जान जोखिम में डाल इस 'तहसीलदार' ने जीत लिया दिल! ग्रामीण हुए मुरीद

यह भी पढ़ें- युवा आक्रोश रैली: राहुल गांधी बोले- एक साल में एक करोड़ युवाओं ने खोया रोजगार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए उदयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 28, 2020, 4:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर